अमेरिका, एशिया में तैनात करेगा अपनी फ़ौज जो ड्रैगन की हरकतों पर रखेगा नजर

अब चीन की खैर नहीं, अमेरिका, एशिया में तैनात करेगा अपनी फ़ौज जो ड्रैगन की हरकतों पर रखेगा नजर

चीन, भारत समेत एशिया के कई देशो के साथ टकराव पर है। वहीं 15 जून को भारतीय सैनिको के साथ धोखे से हिंसक झड़प से, कई देशो के आँखों में खटक रहा है। वहीं अमेरिका ने चीन की धोखाधड़ी और दबंगई पर नजर रखने के लिये एशिया में अपनी सैनिक तैनात करेगा।

अमेरिका के विदेश मंत्री ने बताया कि भारत, मलेशिया, इंडोनेशिया, फिलीपीन जैसे एशिया के कई देशों को चीन से खतरा है, जिसकी वजह से अमेरिका, एशिया के कई देशों में अपने सैनिक तैनात करेगा, जो चीन की सेना से मुकाबला कर सके।

अमेरिका राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के निर्देश पर तैनात की जा रही सेना-

अमेरिका राष्ट्रपति के निर्देश पर सैनिक की तैनाती का समीक्षा की जा रही है। पोम्पिया ने बताया कि सैनिकों की तैनाती जमीनी स्तर को देखते हुई कि जाएगी, जिनमें कुछ जगह पर अमेरिकी संसाधन की कमी रहेगी।

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने कहा कि

“राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के निर्देश पर सैनिकों की तैनाती की समीक्षा की जा रही है और इसी योजना के तहत अमेरिका, जर्मनी में अपने सैनिकों की संख्या करीब 52 हजार से घटा कर 25 हजार कर रहा है।”

पोम्पिओ ने आगे कहा कि

“सैनिकों की तैनाती जमीनी स्थिति की वास्तविकता के आधार पर की जाएगी।”

आगे पोम्पिओ ने कहा कि,

‘कुछ जगहों पर अमेरिकी संसाधन कम रहेंगे। कुछ अन्य जगह भी होंगे… मैंने अभी चीनी कम्युनिस्ट पार्टी से खतरे की बात कही है, इसलिए अब भारत को खतरा, वियतनाम को खतरा, मलेशिया, इंडोनेशिया को खतरा, दक्षिण चीन सागर की चुनौतियां हैं।’

 

 

 

HindNow Trending : सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या पर अब मनोज बाजपेई | भोजपुरी इंडस्ट्री का काला सच |
टीवी सीरियल | भारत सरकार ने लिया बड़ा फैसला | भारतीयों के दिल पर छाए ये देशी एप्प