हर विवाहित स्त्री को माननी चाहिए द्रोपदी की ये बातें
//

हर विवाहित स्त्री को माननी चाहिए द्रोपदी की ये बातें

घर गृहस्ती को चलाने के लिए किसी भी महिला की भूमिका सबसे अहम होती है. हर महिला  सारे गुणों से संपन्न होनी चाहिए .ऐसे में महिलाओं को द्रोपती से अपने वैवाहिक जीवन को जीने के लिए सीख लेनी चाहिए. हर शादीशुदा महिला के लिए अपना वैवाहिक जीवन खुशहाली से जीने की इच्छा होती है. ऐसे में कुछ खास बातें हैं, जिसे जानना बहुत ही जरूरी है. महाभारत में द्रोपदी ने सत्यभामा को बताई थी कुछ खास बातें जिससे महिलाओं के वैवाहिक जीवन बहुत ही सुख में व्यतीत होता है.

द्रोपदी ने ऐसी बात कही शादीशुदा महिलाओं के लिए

हर शादीशुदा महिला के लिए अपना वैवाहिक जीवन खुशहाली से जीने की इच्छा होती है ऐसे में कुछ ऐसे खास बातें हैं, जिसे जानना बहुत ही जरूरी है. द्रोपदी ने कुछ ऐसी बातें कहीं हैं, जिससे शादीशुदा महिलाओं के लिए उनके वैवाहिक जीवन में ख़ुशी से भरा रहेगा. परिवार में सुख शांति का माहौल बना रहेगा.

द्रोपदी की बताई हुयी वैवाहिक जीवन से जुड़ी जरुरी बातें

  1. पति को कभी भी अपने वश में नहीं करना चाहिए ऐसा करने से रिश्ते में खटास आती है. किसी भी प्रकार का तंत्र मंत्र से सदैव दूर रहें यदि ऐसा करते हुए पति को पता चल गया तो आपके वैवाहिक जीवन का संबंध खराब हो जाता है .ऐसा करने का कभी भी साहस ना करें.
  2. ससुराल के सभी रिश्तों की पूरी तरह देखभाल करें, सदैव आदर सम्मान दें ससुराल के लोगों से हमेशा इज्जत से पेश आएं.
  3. बुरे आचरण वाली महिलाओं का संग सुखी दांपत्य जीवन को बनाए रखने के लिए चरित्रहीन महिलाओं का साथ नहीं करना चाहिए. ऐसा करने से उनके गृहस्थ जीवन में समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं. जिससे वह हमेशा अपने परिवार में क्लेश कराती हैं.
  4. वैवाहिक जीवन में सदैव फुर्तीला पन दिखाना चाहिए कभी भी आलस्य नहीं करना चाहिए. किसी भी काम को करने के लिए सोच विचार ना करें, जो आपके सामने पड़ा हो उसे किसी और की करने से पहले कर ले.
  5. महिलाओं को दरवाजे पर खड़ा रहना या खिड़की से तांक-झांक करना शोभा नहीं देता है. समाज में उनको गलत धारणा से देखा जाता है ऐसे में महिलाओं को सदैव अपने घर के भीतर ही रहना चाहिए.
  6. महिलाओं को ससुराल के तौर-तरीकों अपनाकर खुशी-खुशी रहना चाहिए. ससुराल के बड़े लोगों से सदैव पर्दा करके रहना चाहिए ऐसा करने से इज्जत और सम्मान मिलता है साथ ही आपके माता पिता के संस्कार की तारीफ की जाती है. स्वयं अपने से बड़ों को इज्जत सम्मान दें और अपने से छोटों को ढेर सारा प्यार.

 

 

 

ये भी पढ़े:

ये है रामायण से जुड़ी 5 बातें, जिससे आप अब तक होंगे अनजान |

आज का राशिफल : कुंभ और मीन राशि को होने वाला है लाभ, वृश्चिक राशि वाले न करें ये गलती |

दैनिक भविष्यवाणी 24 सितंबर 2020: जन्मतिथि के अनुसार जाने कैसा रहेगा आपका आज का दिन |

धोनी पर गरजे गंभीर, कहा टीम को संकट में देख कैसे पीछे हट सकता है लीडर |

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया कोरोना संक्रमण के चलते अस्पताल में भर्ती |