लखनऊ के रामस्वरूप केमिकल फैक्ट्री में हुआ धमाका
/

वीडियो: लखनऊ के रामस्वरूप केमिकल फैक्ट्री में हुआ धमाका फिर देखिए क्या हुआ

लखनऊ के चिनहट थाना क्षेत्र के रिहायशी इलाके मे स्थित रामस्वरूप कैमिकल फैक्ट्री के ब्वॉयलर में ब्लास्ट की आवाज से चारों तरफ अफरा-तफरी मच गई. पहले तो आसपास के लोगों को यह मालूम ही नहीं हुआ कि अचानक इतनी तेज आवाज कहां से आई, लेकिन जैसे ही फैक्ट्री में मौजूद मजदूरों का चीखने चिल्लाने की आवाज आई तो इलाकाई लोगों का धमाके की आवाज की ओर भागना शुरू हुआ, तो मालूम हुआ कि केमिकल फैक्ट्री में बॉयलर फटा है.

केमिकल फैक्ट्री में हुआ धमाका

देर शाम को हुई इस घटना मे एक मजदूर की मौत हो गईं तो दो महिलाओं समेत सात लोग घायल हो गए हैं. सूचना पर पुलिस दल ने पहुँच कर घायलों को एम्बुलेंस से अस्पताल में भर्ती कराया. इस सम्बन्ध मे सीएफओ वीके सिंह ने बताया कि फैक्ट्री की दमकल से एनओसी भी नहीं है.

इंस्पेक्टर चिनहट के अनुसार मौके पर पुलिस टीमें राहत-बचाव कार्य मे जुटी हैं. स्थिति सामान्य होने पर फैक्ट्री मालिक से पूछताछ कर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

आपको बता दें कि घटना की सूचना पर मौके पर दर्जनओ दमकल और आधा दर्जन एम्बुलेंस राहत और बचाव कार्य में देर रात तक जुटी रहीं. इस फैक्ट्री में कीटनाशक दवाएं बनाई जाती थी. इसी वजह से धमाका होने पर आसपास का पूरा इलाका हिल गया और लोगों में भगदड़ मच गई थी.

धमाका इतनी जोर का था कि फैक्ट्री की सीमेंट की छत भी उड़ गई थी. टुकड़े दूर तक जा गिरे, इससे घटना का अंदाजा लगाया जा सकता है, कि किस कदर लोगों कि सांसे अटक गईं होंगी.

पड़ोस में रहने वाली दो महिलाएं भी छत के मलबे की चपेट में आकर घायल हो गईं. फैक्ट्री के मलबे में दबकर एक मजदूर की मौत हो गई, जिसे पुलिस और फायर की टीम ने निकालकर अस्पताल भी पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

एसडीआरएफ ने शुरू किया बचाव कार्य …

कंपनी कमांडर चंद्रेश्वर की निगरानी मे एसडीआरएफ (राज्य आपदा मोचन दल ) की टीम भी मौके पर पहुंची और बचाव व राहत कार्य में पुलिस व फायर की टीम की मदद मे देर रात तक जुटी रही.

घुट गया था लोगों का दम…

धमाके के साथ फैक्ट्री में चारों ओर धुआं फैल गया, जिससे इलाकाई लोगों का दम घुटने लगा. फायर, पुलिस और अन्य राहत व बचाव कार्य में जुटी टीमों को धुएं के चलते काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा.

चौकी के सामने चल रही थी अवैध फैक्ट्री….

बाबू बनारसी दास यूनिवर्सिटी के पास स्थित चौकी के सामने ही यह अवैध फैक्ट्री चल रही थी. पुलिस के अनुसार फैक्ट्री की दमकल की एनओसी नही थी. अब सवाल यह उठता है की पुलिस चौकी के सामने कैसे ये अवैध फैक्ट्री संचालित थी.

यहाँ देखें वीडियो

 

 

 

HindNow Trending: पॉलीटेक्निक अभ्यर्थियों के लिए वरदान साबित हुआ कोरोना काल | सूर्य ग्रहण के प्रकोप पर भारी
 ये पाँच चीज़ेसूर्य ग्रहण : प्राकृतिक आपदा लेकर आ रहा है साल का पहला सूर्यग्रहण | 
कौन हैं सुषमा स्वराज की इकलौती बेटी | ये देशी चटनी खाने से कम होगा कोरोना का खतरा