मुख्तार अंसारी के पांच, करीबियों के शस्त्र लाइसेंस निरस्त

योगी सरकार का बड़ा फैसला, बाहुबली मुख्तार अंसारी के पांच करीबियों के शस्त्र लाइसेंस निरस्त

बाहुबली मुख्तार अंसारी के करीबी रिश्तेदारों और करीबियों समेत पांच सहयोगियों के शस्त्र लाइसेंस गाजीपुर जिलाधिकारी ने मंगलवार को निरस्त कर दिए। यह कार्यवाई इंस्पेक्टर मुहम्मदाबाद के द्वारा प्रेषित की गई रिपोर्ट के आधार पर जिलाधिकारी ने की। बीते दिनों, कानपुर एनकाउंटर के बाद मुख्यमंत्री योगी ने सभी अपराधियों और बाहुबली नेताओं पर कड़ी कार्यवाई के निर्देश दिए थे। जिसके बाद यह कार्यवाई की गई। शस्त्र निलंबन कार्यवाई के बाद मालखाने में दाखिल कर दिया गया।

मुख्तार के इन करीबियों के निरस्त हुए शस्त्र लाइसेंस

– उदय नरायण यादव पुत्र स्व. श्रीपति सिंह यादव नि. रघुवरगंज थाना मुहम्मदाबाद,गाजीपुर (मुख्तार अंसारी के सहयोगी)
– रियाज अंसारी पुत्र शब्बीर अंसारी नि.कल्यानपुर थाना मुहम्मदाबाद, गाजीपुर (मुख्तार अंसारी के सहयोगी)
– रामानुज सिंह यादव पुत्र स्व. रामदरश सिंह यादव नि. दाउदपुर, थाना मुहम्मदाबाद, गाजीपुर.(मुख्तार अंसारी के सहयोगी)
– अफजल अली खान पुत्र स्व. शहाबुद्दीन खान नि.दाउदपुर, थाना मुहम्मदाबाद,गाजीपुर. (मुख्तार अंसारी के सहयोगी)
– वलीउल्लाह खान पुत्र कलीमुल्लाह नि. जफरपुरा,थाना मुहम्मदाबाद, गाजीपुर (मुख्तार अंसारी के सहयोगी)

कइयों की संपत्तियों पर हुई कार्यवाई और अब तक 33 के शस्त्र लाइसेंस हुए निरस्त

अब तक मुख्तार अंसारी गैंग के लखनऊ से लेकर गैर जननपदों में रह रहे सदस्यों, सहयोगियों, रिश्तेदारों संपत्तियों पर कार्यवाई हो चुकी है। इसके अलावा 33 करीबियों के शस्त्र लाइसेंस की निरस्तीकरण की कार्यवाई के बाद उन्हें थानों के मालखाने में दाखिल किया जा चुका है। यह कार्यवाई लगातार चलती रहेगी।

 

 

 

ये भी पढ़े:

उत्तर प्रदेश पुलिस ने किडनैपर को दिलाया 30 लाख फिरौती |

छत्तीसगढ़ में ग्रामीणों से खरीदा जाएगा 2 रुपए में गोबर |

आज रिलीज होगा सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म का दूसरा गाना |

एसटीएफ की मुठभेड़ में मारा गया प्रभात मिश्रा था नाबालिग |

एक दिन में आए कोरोनावायरस के सबसे ज्यादा मामले |

आज इन राशियों पर बरसेगी कृपा , मिल सकती है परेशानियों से मुक्ति |