शहीद सीओ देवेंद्र कुमार मिश्रा की रिश्तेदार ने विकास दुबे एनकाउंटर पर तोड़ी चुप्पी, योगी को कही ये बात

कानपुर: कानपुर का दुर्दांत अपराधी विकास दुबे का कानपुर के ही भौती इलाके में एनकाउंटर कर दिया गया है। जिसके बाद जहां एनकाउंटर पर सवाल खड़े हो रहे हैं तो दूसरी ओर 2-3 जुलाई की रात शहीद हुए यूपी पुलिस के 8 जवानों के परिजनों में ख़ुशी की लहर दौड़ और परिजन योगी सरकार की प्रशंसा कर रहें हैं।

योगी आदित्यनाथ की तारीफ

शहीद सीओ देवेंद्र कुमार मिश्रा की रिश्तेदार ने विकास दुबे एनकाउंटर पर तोड़ी चुप्पी, योगी को कही ये बात

विकास दुबे के एनकाउंटर पर शहीद जवानों के परिजनों ने योगी सरकार की तारीफ की है। यूपी पुलिस टीम के शहीद जवान के एक परिजन कमलकांत ने योगी सरकार की तारीफ की है और योगी आदित्यनाथ को रुद्र का अवतार बताया है।

परिजनों में है खुशी

आपको बता दें कि कमलकांत शहीद सीओ देवेंद्र कुमार मिश्रा (co devendra mishra) के रिश्तेदार हैं। उन्होंने विकास के एनकाउंटर के लिए योगी को क्रेडिट दिया। कमलकांत ने अपने बयान में कहा कि मैं भी योगी की तरह मैं भी संन्यासी हूं। समाज का दर्द वे समझते हैं। कमलकांत ने कहा,

‘वह (योगी) अपने स्तर पर सब ठीक करने की पूरी कोशिश कर रहे, ठीक वैसे जैसे रुद्र अवतार। लेकिन सिर्फ अकेला आदमी सब ठीक नहीं कर सकता।’

कमल कांत दुबे ने आगे कहा कि विकास दुबे के मारे जाने से परिवार को सिर्फ 10 प्रतिशत संतुष्टि है उन्होंने कहा कि विकास के साथ मिले हुए लोगों के नाम से भी पर्दा उठाया जाना चाहिए था।

पुलिस को थी तलाश

आपको बता दें कि विकास दुबे की पिछले 7 दिनों से पुलिस तलाश कर रही थी उनसे 8 पुलिसकर्मियों की हत्या की थी। विकास दुबे को गुरुवार को मध्य प्रदेश पुलिस ने उज्जैन से गिरफ्तार किया था। जिसके बाद यूपी एसटीएफ उसे कानपुर ला रहे थे और इसी दौरान विकास दुबे का एनकाउंटर हो गया।

 

 

 

 

ये भी पढ़े:

विकास दुबे एनकाउंटर मामलें में घिरी योगी सरकार, IPS अफसर ने कहा |

शहीद पुलिसकर्मी के पिता ने कहा- “योगी जी की आँखों में क्रोध और सीने में धधकती ज्वाला  |

विकास दुबे का एनकाउंटर हुआ और लखनऊ पुलिस ने उसकी पत्नी और बच्चे के साथ किया ये काम |

अंतिम संस्कार के समय फूट-फूटकर रोया विकास दुबे का 12 साल का बेटा |

पोस्टमार्टम के बाद माता-पिता ने शव लेने से किया इंकार |

थप्पड़ पड़ने पर चिल्लाया था विकास दुबे, कानपुर में होता तो |

Leave a comment

Your email address will not be published.