बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के नाम पर लखनऊ में डेढ़ करोड़ रुपये की ठगी

बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के नाम पर लखनऊ में डेढ़ करोड़ रुपये की ठगी

लखनऊ के हजरतगंज इलाके में स्थित आयोसिस स्पा एंड वेलनेस सेंटर की फ्रेंचाइजी में पार्टनरशिप का झांसा देकर कारोबारी से डेढ़ करोड़ रुपये हड़प लिए गए। आरोपियों ने बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी को आयोसिस की निदेशक व ब्रांड एम्बेस्डर बताकर कारोबारी को बातों में फंसाया और रुपये ऐंठने शुरू कर दिए। लगातार घाटा होने पर पीड़ित ने कंपनी अधिकारियों से शिकायत की तो उन्होंने धमकाना शुरू कर दिया। पीड़ित ने इस मामले में कंपनी की एमडी समेत छह लोगों के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में एफआईआर दर्ज कराई है।

इंस्पेक्टर अंजनी कुमार पाण्डेय ने बताया कि महानगर एक्सटेंशन निवासी रोहित वीर सिंह मिदासदीप इंटरप्राइजेज के संचालक व पार्टनर हैं। रोहित वीर का कहना है कि वर्ष 2018 में मुंबई की आयोसिस स्पा एंड वेलनेस सेंटर प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंधकों ने उनसे संपर्क करके हजरतगंज स्थित कंपनी के वेलनेस सेंटर का फ्रेंचाइजी पार्टनर बनने का ऑफर दिया।

कंपनी की एमडी किरन बावा ने उन्हें बताया कि अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी कुंद्रा आयोसिस ग्रुप की निदेशक और ब्रांड एम्बेसडर हैं। अगर वह फ्रेंचाइजी में निवेश करते हैं तो शिल्पी शेट्टी लखनऊ आकर सेंटर का उद्घाटन भी करेंगी।

रोहित वीर के मुताबिक मुंबई स्थित हेडक्वार्टर में बातचीत के दौरान आरोपियों ने उन्हें कंपनी की बैलेंस शीट दिखाकर आश्वस्त किया कि आयोसिस की फ्रैंचाइजी बहुत मुनाफे में चलती है। झांसे में आकर उन्होंने करीब 70 लाख रुपये का एकमुश्त निवेश कर दिया।

सारा खर्चा पीड़ित का, आरोपी मुनाफा लेते रहे

रोहित वीर के मुताबिक स्पा में काम करने वाले कर्मचारियों का वेतन, भवन का किराया, बिजली का बिल व उत्पाद में होने वाले खर्च का सारा भुगतान वह करते रहे। जबकि, सेंटर से होने वाली कमाई का सारा लाभ कंपनी उठाती रही। पीड़ित का आरोप है कि कंपनी की तरफ से नियुक्त कर्मचारी लगातार चोरी और कालाबाजी भी करते रहे। जिसकी शिकायत पर कंपनी के अधिकारियों ने कभी कोई एक्शन नहीं लिया।

सादे पेपर पर साइन लेकर फंसाया

रोहित वीर का कहना है कि एमडी किरन बावा ने लिखित एग्रीमेंट की बात कहकर उनसे कई सादे पेपर पर साइन लिए थे। लगातार घाटा होने पर जब उन्होंने विरोध किया तो आरोपियों ने इन पेपरों के सहारे फर्जी एग्रीमेंट तैयार करके उलटा उन्हें ही फंसा दिया।

पीड़ित का आरोप है कि कंपनी के लोग अब तक उनसे डेढ़ करोड़ रुपये हड़प चुके हैं। इंस्पेक्टर ने बताया कि एमडी किरन बावा, निदेशक विनय भसीन, इशराफिल धर्मजवाला, नवनीत सुलझाना, जयेश व शैलेश के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी गई है।

 

 

 

 

ये भी पढ़े:

डिप्टी कलेक्टर बनने का सपना देख रहा सिविल इंजीनियर |

पुलिस के 3 घंटे की पूछताछ में इस सवाल का जवाब नहीं दे पाए संजय लीला भंसाली |

जीडी बख्शी जिसने लाइव टीवी पर कश्मीरी नेता को दी माँ की भद्दी गालियाँ |

चीनी चैनल से गलती से खोल दी गलवान के चीन की नीच हरकत की पोल |

लद्दाख के विकास से परेशान है चीन |