सपा प्रमुख अखिलेश यादव का बड़ा ऐलान, अकेले लड़ेंगे 2022 का यूपी विधानसभा चुनाव

सपा अकेले लड़ेगी विधानसभा 2022 का चुनाव : अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि पुराने चुनावों की तरह अब वो किसी भी भी पार्टी से गठबंधन नहीं करेंगे और अगला चुनाव अकेले ही लड़ेंगे।

देश के सबसे बड़े सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को उत्तर प्रदेश के 2022 विधानसभा चुनाव को लेकर तैयारियां शुरू कर दी है। इसी बीच अखिलेश यादव चुनावों में गठबंधन को लेकर एक बड़ा ऐलान करते हुए साफ कर दिया कि उत्तर प्रदेश में 2022 का विधानसभा चुनाव समाजवादी पार्टी अकेले अपने दम पर लड़ेगी और किसी से गठबंधन नहीं करेगी।

जनता से सीधा जुड़ाव

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव बात करते हुए कहा है कि हम अपनी तैयारियों में जुटे हुए हैं, चुनाव अब ज्यादा दूर नहीं रह गए हैं और हमारे कार्यकर्ता ज़मीनी स्तर पर काम करके जनता से जुड़ाव मजबूत कर रहे हैं और हम इन चुनावों में जनता से एक बार फ़िर अपने लिए समर्थन हासिल करेंगे।

पुराने कामों का करेंगे उल्लेख

समाजवादी पार्टी की चुनावी रणनीति के सवालों पर अखिलेश यादव ने साफ कह दिया है कि वो अपने पुराने कार्यों और योजनाओं को लेकर जनता के सामने जाएंगे और भविष्य के लिए एक प्रभावी नया घोषणा पत्र साथ रखेंगे और जनता से समर्थन मांगने में सफल होंगे।

अंदरखाने है असंतोष

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय मुखिया अखिलेश यादव ने कहा कि,

“भाजपा को डुबोने के लिए भाजपा के लोग ही काफी हैं,भाजपा विधायक घरों पर बैठकर अपनी ही सरकार को कोस रहे हैं। मंत्री नहीं समझ पा रहे हैं क्या करें और क्या न करें। भाजपा के एमएलए सरकार के खिलाफ खड़े हैं। हमें तो बस चुनाव की व्यवस्था करनी है।”

फेल हुए नारे

अखिलेश यादव ने देश की मोदी और प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने भाजपा को उनके चुनावु नारे याद दिलाते हुए त़ज कसा कि सारे नारे फेल‌ हो चुके हैं। भाजपा अपना काम बता ही नहीं पा रही है। भाजपा का मेक इन इंडिया, अच्छे दिन, आत्मनिर्भर जैसे नारे फेल हो रहे हैं। लोग अपने आस—पास देख रहे हैं जब कुछ किया हो तो ही तो बताएंगे।

जीत सकते हैं 351 सीटें

अखिलेश यादव ने भावी राजनीति और चुनावी दावों के बीच भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि जब भाजपा प्रदेश की जनता को गुमराह करके 325 सीटें जीत सकती हैं, तो फ़िर समाजवादी पार्टी भी अपने काम के दम पर 351 सीटें जीत सकती है।

नहीं होगा गठबंधन

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने साफ कर दिया है कि 2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी किसी भी राजनीतिक पार्टी के साथ गठबंधन नहीं करेगी और अकेले ही चुनाव में ताल‌ ठोकती नजर आएगी। आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के 2017 विधानसभा चुनाव में सपा ने कांग्रेस से और 2019 लोकसभा में बहुजन समाज पार्टी से गठबंधन किया था दोनों ही चुनावों में समाजवादी पार्टी को तगड़ा नुकसान उठाते हुए चारो खाने चित्त होना पड़ा‌ था।

 

 

 

HindNow Trending : पाकिस्तान स्टॉक एक्सचेंज पर हुआ बड़ा आतंकी हमला | डोनाल्ड ट्रंप को पसंद आया
यूपी का योगी मॉडल | 3 आतंकियों को किया ढेर | कोरोना के लिए काल है ये काढ़ा | करण जौहर ने दिया 
अपने पद से इस्तीफा