कोरोना के बढ़ते मामले देख नीतीश के सुशासन फर भड़के तेजस्वी

कोरोनावायरस के बढ़ते मामले देख नीतीश के सुशासन फर भड़के तेजस्वी

बिहार में बढ़ते कोरोनावायरस के मामलों के चलते राजनीति भी शुरू हो गई है। राज्य की स्थिति पर आरजेडी नेता ने नीतीश की नीतियों की जमकर आलोचना की है।

पटना: बिहार में कोरोनावायरस बहुत तेजी से बढ़ रहा है। कम टेस्टिंग में भी राज्य में पॉजिटिविटी रेट बहुत ज्यादा है जो कि एक अधिक जनसंख्या घनत्व वाले राज्य के लिए किसी बड़े भूचाल की तरह है। एक तरफ जहां कोरोनावायरस के मामले बढ़ रहे हैं तो वैसे ही विपक्षी दलों का नीतीश कुमार की कथित सुशासन सरकार पर हमले भी बढ़ रहे हैं। अरजेडी नेता और पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव लगातार नीतीश सरकार की आलोचना कर रहे हैं।

कम जांच केस ज्यादा

दरअसल, बिहार के कोरोनावायरस के हालात पर पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी ने कहा कि बिहार में जांच भी कम हो रही है लेकिन केस ज्यादा आ रहे हैं बाकी प्रदेशों में 30-40 हजार जांचें हो रहीं हैं। वहीं बिहार 10 हजार के ऊपर भी नहीं जा पा रहा है। अपनी बातों में तेजस्वी यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला है।

बन जाएगा ग्लोबल हॉटस्पॉट

तेजस्वी यादव ने कहा कि अगर राज्य में कोरोनावायरस की जांच 30-40 हजार प्रतिदिन के अनुसार हो तो हर दिन लगभग 4.5 हजार मामले आएंगे और एक ऐसा समय आएगा कि बिहार भारत का नहीं बल्कि एक ग्रोबल हॉटस्पॉट बन जाएगा।

ज्यादा है पॉजिटिविटी रेट

तेजस्वी ने कहा कि कोरोनावायरस के मामले बिहार में बहुत ज्यादा हो गए हैं। लेकिन सरकार के पास जांच की कोई व्यवस्था ही नहीं है जिस हिसाब से राज्य में 13 प्रतिशत का कोरोनावायरस का पॉजिटिविटी रेट है उसके अनुसार बिहार‌ में जांच का प्रतिशत बहुत कम है। उन्होंने कहा कि अब केंद्र से टीम आकर स्थितियों पर नियंत्रण लगाएगी जो ये बताता है नीतीश कुमार विफल रहे हैं।

अपने वक्तव्य में तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोला कि नीतीश ने लॉकडाउन के समय का कोई उपयोग नहीं किया जिस दौरान अस्पतालों का मेनटेनेंस बढ़ाना था, इलाज की सुविधाएं बढ़ानी थीं उस दौरान वो बैठे थे। जिसके चलते आज बिहार में स्वास्थ्य व्यवस्था बिल्कुल भी अच्छी नहीं है। लोगों को अस्पतालों के बाहर तड़प-तड़प कर मरते देखा जा रहा है जो कि दुखद है।

चरम पर है राजनीति

आपको बता दें कि कोरोनावायरस के बढ़ने के साथ ही बिहार में राजनीति भी चरम पर है। जिसका कारण इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव भी है। कोरोनावायरस को लेकर लगातार विपक्ष मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमलावर रुख अख्तियार कर रहा है, जिसमें सबसे आगे अरजेडी नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव शामिल हैं।

 

 

 

ये भी पढ़े:

वेब सीरीज में दिखेगा कुख्यात अपराधी विकास दुबे का अपराधिक जीवन |

भारत में बेकाबू हुआ कोरोना, पिछले 24 घंटों में 38 हजार से ज्यादा केस आए सामने |

SSR केस: कंगना रनौत का दावा- ‘आरोप साबित नहीं हुए तो लौटा दूंगी पद्मश्री’ |

शनिवार को ये राशि वाले सावधान हो सकती हैं परेशानियां |

ऑडियो के वायरल होने के बाद राजस्थान की राजनीति में आया बवाल |