50 दिन के बाद पेट्रोल और डीजल की कीमत बढ़ी,अब इतने में मिलेगा
/

PETROL AND DIESEL PRICE: 50 दिन के बाद पेट्रोल और डीजल की कीमत बढ़ी, अब इतने में मिलेगा 1 लीटर

पिछले काफी दिनों से सरकारी तेल कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कोई फेरबदल नहीं हुआ है। वही आज 41 दिन बाद डीजल की कीमत में बढ़ोतरी हुई है।

पिछले काफी दिनों से सरकारी तेल कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कोई फेरबदल नहीं हुआ है। वही आज 41 दिन बाद डीजल की कीमत में बढ़ोतरी हुई है। पेट्रोल के दाम में भी 50 दिनों के बाद बढ़ा है। शुक्रवार को डीजल के दाम 22 पैसे से 25 पैसे तक बढ़े। पेट्रोल की कीमत में 17 से 20 पैसे तक की बढ़ोतरी हुई। आखिरी बार बीते 02 अक्टूबर को डीजल के दाम में 08 पैसे प्रति लीटर की कटौती की गई थी।

ये रहेंगे दाम

Petrol And Diesel Price: 50 दिन के बाद पेट्रोल और डीजल की कीमत बढ़ी, अब इतने में मिलेगा 1 लीटर

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नै में डीजल के दाम क्रमश: 70.68 रुपये, 74.24 रुपये, 77.11 रुपये और 76.17 रुपये प्रति लीटर हो गई है। चारों महानगरों में पेट्रोल का दाम क्रमश: 81.23 रुपये, 82.79 रुपये, 87.92 रुपये और 84.31 रुपये प्रति लीटर हो गया है.

एसएमएस के जरिए जाने तेल की कीमत

Petrol And Diesel Price: 50 दिन के बाद पेट्रोल और डीजल की कीमत बढ़ी, अब इतने में मिलेगा 1 लीटर

पेट्रोल-डीजल के दाम आप एसएमएस के जरिए भी जान सकते हैं। इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, आपको RSP और अपने शहर का कोड लिखकर 9224992249 नंबर पर भेजना होगा। हर शहर का कोड अलग-अलग है, जो आपको आईओसीएल की वेबसाइट से प्राप्त हो जाएगा।

रोजाना छह बजे बदलते हैं दाम

Petrol And Diesel Price: 50 दिन के बाद पेट्रोल और डीजल की कीमत बढ़ी, अब इतने में मिलेगा 1 लीटर

रोजाना सुबह छह बजे पेट्रोल और डीजल के दाम में बदलाव होता है। सुबह छह बजे से ही नई दरें लागू हो जाती हैं। पेट्रोल व डीजल की कीमत में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन और अन्य चीजें जोड़ने के बाद इसका दाम लगभग दोगुना हो जाता है। विदेशी मुद्रा दरों के साथ अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड की कीमतें क्या हैं, इस आधार पर रोज पेट्रोल और डीजल के दाम में बदलाव होता है। इन्हीं मानकों के आधार पर पेट्रोल भाव और डीजल भाव रोज तय करने का काम तेल कंपनियां करती हैं। डीलर पेट्रोल पंप चलाने वाले लोग हैं। वे खुद को खुदरा दाम पर उपभोक्ताओं के अंत में करों और अपने स्वयं के मार्जिन जोड़ने के बाद पेट्रोल बेचते हैं।