पायलट अखिलेश की डेड बॉडी घर पहुंची तो मां-पत्नि हुई बेहोश
/

विमान हादसा: पायलट अखिलेश की डेड बॉडी घर पर मथुरा पहुंची तो मां-पत्नि हुई बेहोश

शुक्रवार को केरल के कोझिकोड में हुए भीषण विमान हादसे में मारे गए पायलट अखिलेश शर्मा का पार्थिव शरीर रविवार को सुबह मथुरा पहुंचा तो परिवार वाले पर कहर टूट पड़ा। उनकी डेडबॉडी घर की दहलीज पर पहुंचते ही परिवार के लोगों का रो- रोकर बुरा हाल हो गया। पायलट अखिलेश की पत्नि बेदूध होकर बेहोश हो गई। चारों तरफ चीख- पकार मच गई।

पायलट अखिलेश की पत्नि प्रेंगनेट है जिसकी डिलीवरी 10 दिनों के बाद होनी है। परिवार में नन्हे मेहमान की किलकारियां गूंजने वाली थी, लेकिन पलभर में मातम पसर गया है। पायलट अखिलेश पिता बनने वाले थे। डॉक्टर भूदेव की मौजूदगी में स्वास्थ्य टीम गर्भवती पत्नी के स्वास्थ्य पर नजर रखी जा रही है।

पायलट अखिलेश को शहीद का दर्जा दिया जाए- परिजन

उधर परिजनों की मांग है कि- अखिलेश को शहीद का दर्ज दिया जाए।पायलट अखिलेश शर्मा की मौत की सूचना मिलते ही मथुरा के थाना गोविंद नगर इलाके के जन्मभूमि के पास स्थित उनके घर परिवार में मातम पसर गया है। इसके बाद अखिलेश की फैमली में कोहराम मच गया। थाना गोविंद नगर इलाके के पोतरा कुंड निवासी 32 साल अखिलेश शर्मा पुत्र तुलसीराम शर्मा एयर इंडिया में को-पायलट थे। शुक्रवार को केरल के कोझिकोड स्थित करीपुर एयरोपोर्ट पर हुए एयर इंडिया विमान हादसे में उनकी मौत हो गई। मौत की खबर मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया है।

अखिलेश की दो साल पहले शादी हुई थी

बता दें कि- अखिलेश की पत्नी मेघा गर्भवती हैं. 10 दिन बाद उनकी डिलीवरी होनी है. इस मौके पर परिवार के लोग खुशियां मना रहे थे,लेकिन उससे पहले अखिलेश की मौत की खबर आ गई। इससे परिवार में मातम पसर गया। परिवार के लोगों को यकीन नहीं हो पा रहा है कि अखिलेश इस दुनिया से चला गया है। अखिलेश शर्मा की शादी अभी दो वर्ष पूर्व 10 दिसंबर को हुई थी। जिनकी पत्नी अभी गर्भवती है। परिजनों का कहना है कि वह लॉकडाउन से पहले घर आया था। इनके परिवार में 2 भाई एव एक बहन और पत्नी मेघा सहित माता पिता है।

विमान हादसे में अब तक 19 लोगों की मौत

उड़ान संख्या आईएक्स 1344 कोझिकोड में शुक्रवार शाम सात बजकर 41 मिनट पर रनवे पर फिसल गया और ये भीषण हादसा हो गया। जानकारी के मुताबकि, विमान में 10 बच्चों समेत 184 यात्री, दो पायलट और चालक दल के चार सदस्य सवार थे। इस हादसे में कम से कम 19 लोगों की मौत हो गई। कोझिकोड एयरपोर्ट के एक अधिकारी के मुताबिक वहां कई घंटों से ज़ोरदार बारिश हो रही थी। ऐसे में विमान के पायलट कैप्टन वसंत साठे एयरपोर्ट के दो चक्कर काटने के बाद रनवे पर उतरने की कोशिश की। बाद में प्लेन के दो टुकड़े हो गए।

 

 

 

ये भी पढ़े:

न्यूजीलैंड समेत ये हैं दुनिया के 25 देश, जो कोरोना से जंग जीतकर मुक्त हो गए, देखें लिस्ट |

सारा अली खान ने इस अभिनेत्री को देख एक्ट्रेस बनने की ठानी, फिर घटाया 96 किलो से वजन |

फेसबुक पोस्ट से भड़की हिंसा 2 लोगों की मौत, 60 घायल |

तैमूर से भी ज्यादा खूबसूरत है गोल्ड मेडलिस्ट गीता फोगट का बेटा, देखें तस्वीरें |

“जिंदा रहने का अरमान भी नहीं होता” ये था राहत इंदौरी का अंतिम शायरी |