घाटी में भारतीय सुरक्षाबलों का का बड़ा कारनामा, 31 साल बाद आतंकीयों का सफाया

घाटी में भारतीय सुरक्षाबलों का का बड़ा कारनामा, 31 साल में पहली बार त्राल से हिजबुल मुजाहिदीन का सफाया

जम्मू कश्मीर मे सुरक्षाबलों को एक बड़ी सफलता हासिल हुई है। पुलवामा जिले के त्राल में भारतीय जवान और आतंकियों के बीच बीते रात मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया। वहीं जम्मू कश्मीर के पुलिस ने दावा किया कि इस मुठभेड़ में त्राल में सुरक्षाबलों ने आतंकी हिजबुल मुजाहिदीन का सफ़ाया कर दिया है।

आईजीपी ने एक ट्वीट कर कहा कि 1989 के बाद ऐसा पहली बार हुआ है कि इस ऑपरेशन के बाद हिजबुल मुजाहिदीन आतंकियों की मौजूदगी नही है।

सेना के प्रवक्ता ने जानकारी दी-

इस मामले पर सेना के प्रवक्ता ने बताया कि पुलवामा जिले में चलाए गये अभियान के तहत तीन आतंकियों को ढेर कर दिया गया है। आतंकियो के कब्जे से काफी मात्रा में लैस हथियार बरामद हुआ है।

त्राल के चीवा उलार इलाके में गुरुवार को आतंकियों की छुपने की खबर मिली थी, जिसके कार्रवाई में सुरक्षा बल और जम्मु कश्मीर पुलिस द्वारा घेराबंदी कर सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया, जिसमे आतंकियों ने सुरक्षा बल पर गोली चलाई , जिसके बाद ये मुठभेड़ में बदल गया सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्यवाही की जिसमे आतंकियों को आत्मसमर्पण करने की अपील की जो उन्होंने नही माने।

गुरुवार को रात भर चली मुठभेड़ जारी रही जो शुक्रवार की सुबह तीन आतंकियों को सुरक्षा बल द्वारा ढेर किये जाने के बाद खत्म हुई। इस मुठभेड़ के दौरान कोई नागरिक घायल नही हुआ।

घाटी में काफी एक्टिव थे मुजाहिदीन के आतंकी

दरअसल घाटी में आतंकियों के फलने के बाद हिजबुल मुजाहिदीन का दबदबा रहा है, जो आतंक फलाने में काफी कैडर थे। लेकिन ऐसा पहली बार हुआ की इस ऑपरेशन के बाद हिजबुल मुजाहिदीन आतंकियों की संगटन घाटी से खत्म हो गयी है।

आपकों बता दें कि जम्मू कश्मीर के सुरक्षा बल और पुलिस को इस सर्च ऑपरेशन करने से बड़ी सफलता मिली है।

 

 

 

 

HindNow Trending :  सुशांत सिंह आत्महत्या मामले में पुलिस को मिला नया ट्विस्टसुशांत सिंह राजपूत
केस में निशाने पर आईं एकता कपूर | करण जौहर की दादागिरी | UP बोर्ड परीक्षा परिणाम में कैदियों ने गाड़ा झंडा |
पाकिस्तान में घुसकर उड़ाया था हथियारों से भरा ट्रेन | गलवान में शहीदों के परिवारों को 40 लाख देगी LAVA