12 सितंबर से चलेंगी 80 स्पेशल ट्रेन, गोरखपुर और बिहार के लिए
/

12 सितंबर से चलेंगी 80 स्पेशल ट्रेन, गोरखपुर और बिहार के लिए खुशखबरी

नई दिल्ली : वैश्विक महामारी कोरोना ने हमारे देश का हुलिया ही बदल दिया है. जहां लाखों लोगों ने इस महामारी में अपनी जानें गवाई है, वहीं हमारे अर्थव्यवस्था को भी झकझोर कर रख दिया है. रेल सेवा पूरी तरह से ठप कर दी गई थी. पुरे देश में 22 मार्च से लगातार 3 महीने के लॉकडाउन के बाद कुछ स्पेसल ट्रेनों को चलाया गया. पुनः एक बार ट्रेनें पटरी पर दौड़ी लेकिन पूर्ण रूप से नहीं। लेकिन एक बार फिर इस महीने 12 सितम्बर से 80 स्पेशल ट्रेनों का संचालन किया जायेगा…

12 सितम्बर से चलेंगी 80 विशेष ट्रेनें

बता दें कि यात्रिओं के आवागमन के लिए सरकार ने 12 सितम्बर से 80 स्पेशल ट्रेनों को चलाने का फैसला लिया है. जिसका आरक्षण 10 सितम्बर से शुरू हो जाएगा। रेलवे बोर्ड ने जानकारी दी है कि जो ट्रेने 12 सितम्बर से संचालित होगीं वो इस वक़्त चल रहीं ट्रेनों के अतिरिक्त होंगे. कोरोना से बचने के लिए किये गए है सुरक्षा के कड़े इंतज़ाम.

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष इस बात का भरोसा दिलाते हुए कहा है कि जल्द ही ट्रेनों के विषय में सुचना जारी कर दी जाएगी. शनिवार तक सुचना जारी होने की संभावनाएं है. साथ-ही उन्होंने ये भी कहा कि परिस्थितियों को देखते हुए हमने पुरे इंतज़ाम किये हैं.

 

दिल्ली सरकार और रेलवे ने साथ मिलकर उठाए गए हैं कड़े कदम

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वीके यादव जानकारी देते हुए बताया कि “परीक्षाओं के लिए या ऐसे ही किसी उद्देश्य के लिए राज्य सरकारों से अनुरोध किए जाने पर ट्रेनों का परिचालन किया जाएगा. जहाँ जरूरत होगी वहां ट्रेन अवश्य चलाई जाएगी. जरूरत पड़ने पर क्लोन ट्रेनों का भी संचालन किया जायेगा.

उन्‍होंने यह भी बताया कि भले ही कोरोना संकट की वजह से कुछ निविदा और भूमि अधिग्रहण प्रक्रिया पर असर पड़ा हो लेकिन बुलेट ट्रेन परियोजना में अच्छी प्रगति हुई है. साथ-ही उन्होंने यह भी कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक, पटरियों के किनारे जमा कचरा हटाने के लिए दिल्ली सरकार और रेलवे ने साथ मिलकर कड़े कदम उठाए गए हैं.

कोरोना के दौरान रेलवे ने रिफंड किये कुल 2,727 करोड़ रुपये

बता दें कि कोरोना महामारी के दौरान सबसे ज्यादा नुकसान रेलवे को ही हुआ है. रेलवे को सम्पूर्ण लॉकडाउन के दौरान सभी यात्रिओं के  टिकट का कुल किराया वापस करना पड़ा है. जिससे रेलवे बजट को बड़ा धक्का लगा है. मीडिया एजेंसी पीटीआइ के रिपोर्ट के मुताबिक 22 मार्च से लेकर 23 अगस्‍त तक 1 करोड़ 78 लाख से अधिक टिकट रद किए गए थे. जिसके लिए रेलवे ने यात्रिओं को कुल 2,727 करोड़ रुपये की राशि रिफंड की थी.

यहाँ देखें लिस्ट

भारतीय रेलवे ने इन 80 ट्रेन के  नाम सार्वजनिक कर दिए हैं, जिसको आप नीचे देख सकते हैं.

यहाँ देखें लिस्ट 2

 

 

 

 

 

ये भी पढ़े:

बेटी से शादी करने वाले को करोड़ो रूपये देगा ये शख्स, बस पूरी करनी है ये शर्त  |

इन 5 अभिनेत्रियों को है छोटे कपड़ो और बोल्ड लुक्स से नफरत, छोड़ देती हैं लाखो का ऑफर |

PUB G बैन के बाद नहीं है निराश होने की जरूरत, ऐसे करें डाउनलोड |

GOLD PRICE : 5148 रुपये सस्ता हुआ सोना, चांदी भी 10576 रुपये गिरी |

टीचर्स डे: बॉलीवुड के सुपरस्टार जिन्होंने बड़े पर्दे पर निभाया है टीचर का रोल |