उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू कोरोना संक्रमित पत्नी ऊषा निगेटिव
//

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू कोरोना संक्रमित, पत्नी ऊषा नायडू निगेटिव

देश में कोरोना ने सड़क से लेकर संसद तक अपने पैर पसार लिए हैं। पिछले दिनों संसद सत्र शुरू होने से पहले कई सांसदों के कोविड-19 से संक्रमित होने की खबर आई थी।

नई दिल्ली- देश में कोरोना ने सड़क से लेकर संसद तक अपने पैर पसार लिए हैं। पिछले दिनों संसद सत्र शुरू होने से पहले कई सांसदों के कोविड-19 से संक्रमित होने की खबर आई थी। कई राजनेताओं के कोरोना संक्रमित हो जाने की लिस्ट में अब उपराष्ट्रपति का नाम भी जुड़ गया है। उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू मंगलवार को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। यह जानकारी उपराष्ट्रपति के ट्विटर हैंडल से मंगलवार रात को दी गई है। 4उपराष्ट्रपति की पत्नी ऊषा नायडू का भी कोरोना टेस्ट करवाया गया, हालांकि, उनकी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आई है। फिर भी उपराष्ट्रपति की पत्नी एहतियातन होम आइसोलेशन में हैं। कोरोना से संक्रमित पाए जाने के बाद उपराष्ट्रपति होम क्वारंटाइन में चले गए हैं।

उपराष्ट्रपति में कोविड लक्षण नहीं

71 साल के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने ट्वीट कर लिखा, ”आज सुबह (29 सितंबर) को रुटीन कोविड टेस्ट करवाया था। वे कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। हालांकि उनमें कोविड लक्षण नहीं है और बिल्कुल ठीक हैं। उन्हें सेल्फ आइसोलेशन के लिए होम क्वारंटाइन किया गया है। उपराष्ट्रपति को कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर नायडू के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की।

ये हाल है देश में कोरोना का

कोरोना वायरस के देश में पिछले 24 घंटों में 70000 से ज्यादा संक्रमित मिले और करीब 85000 से ज्यादा लोग ठीक हुए हैं। इसके साथ ही संक्रमण के मामले 62 लाख के करीब पहुंच गए हैं। इनमें 51 लाख के करीब लोग अबतक ठीक हो चुके हैं। सोमवार को वायरस से 775 लोगों की मौतें हुई तो वहीं देश में कुल मरने वालों की संख्या 96,000 के पार हो गई है।

कोरोना से पिछले 24 घंटों के दौरान हुई मौतों की बात करें तो देशभर में 776 लोगों की जान गई है। कई दिनों बाद ऐसा हुआ है कि मौतों का आंकड़ा 1000 के नीचे आया हो। पिछले कई दिनों से रोजाना 1000 से ज्यादा लोग कोरोना की वजह से अपनी जान गंवा रहे थे।

अब तक देशभर में कोरोना की वजह से 96 हज़ार 318 लोगों की जान गई है। हालांकि स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ो के मुताबिक पहले की तुलना में अब कोरोना के मरीज जल्दी ठीक हो रहे हैं क्योंकि देश में कोरोना की रेपिड टेस्टींग बढ़ने की वजह से रिकवरी रेट भी 82 प्रतिशत हो गया है।

 

 

 

 

ये भी पढ़े:

सुशांत का विसरा रिपोर्ट एम्स ने किया सावर्जनिक, खुला मौत का रहस्य |

आठ को आठ बार लिखने से उत्तर एक हजार आएगा, कैसे? IAS के ऐसे सवाल जो घुमा देंगे आपका दिमाग |

हेट स्टोरी 4 के करणवाही की गर्लफ्रेंड करीना कपूर को देती है टक्कर, सैफ खा गये थे धोखा |

सीरियल किसर इमरान हाशमी करना चाहते हैं सैफ की बेटी से रोमांस |

रिलायंस के संस्थापक धीरूभाई अम्बानी के हैं 2 भाई, जाने क्या करता है परिवार |