SPL टीमों के सामने आए नाम, आईपीएल से मिलते हैं सभी नाम
//

SPL टीमों के सामने आए नाम, आईपीएल से मिलते हैं सभी नाम

आईपीएल और बिग-बैश लीग की तरह अब श्रीलंका में भी क्रिकेट लीग का आयोजन किया जाएगा ये घोषणा खुद श्रीलंकाई क्रिकेट बोर्ड ने की है। बोर्ड ने ऐलान किया है कि इस लीग का पहला सीजन 2020 में ही खेला जाएगा। इस लीग में श्रीलंकाई क्रिकेट बोर्ड द्वारा विदेशी बोर्ड के खिलाड़ियों को भी अप्रोच किया जाएगा जिससे ये लीग लाइमलाइट में आएगी।

28 अगस्त से होगी शुरुआत

श्रीलंका में कोरोनावायरस के बहुत कम मामले हैं जिसके चलते यहां विदेशी खिलाड़ी आराम से आकर खेल सकते हैं। बोर्ड के निर्णय के मुताबिक इस लीग का शुभारंभ 28 अगस्त से किया जाएगा। इसका फाइनल मैच 27 सितंबर 2020 को खेला जाएगा। इस क्रिकेट लीग में भारतीय टीम के खिलाड़ी इरफान पठान का नाम भी शामिल हुआ है, जिसको लेकर अभी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

यहां होंगे सारे मैच

खबरों के मुताबिक एसपीएल के शुरुआती साल में 23 मुकाबले खेले जाएंगे और ये सभी मुकाबले श्रीलंका के ही प्रेमदासा इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम, रंगगिरी दांबुला स्टेडियम, पाल्लेकल इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम और एस महिंदा राजपक्षे इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में होंगे। वहीं अभी तक टीमों के नामों को लेकर जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक इस लीग में टीमों कज नाम आईपीएल से मिलते-जुलते हैं।

क्या है टीमों के नाम

खबरों के मुताबिक श्रीलंकाई क्रिकेट लीग में जिन पांच टीमों के हिस्सा लेने की बात सामने आई है, उनके नाम कोलंबो सुपर किंग्स, गाले लॉयंस, जाफना सनराइजर्स, कैंडी रॉयल्स और दांबुला कैपिटल्स हैं। इस बार यही पांच टीमें श्रीलंकाई क्रिकेट टीम में हिस्सा लेंगी वही भविष्य में इन टीमों के बढ़ने की भी संभावनाएं है।

श्रीलंकाई खिलाड़ियों के खेलने पर संशय

गौरतलब है कि यूएई में 19 सितंबर से दुनिया की सबसे बड़ी भारतीय क्रिकेट लीग यानी आईपीएल की शुरुआत होने वाली है। ऐसे में 28 अगस्त से शुरू होने वाले एसपीएल को लेकर यह संशय जताया जा रहा है कि कई श्रीलंकाई खिलाड़ी एसपीएल में नहीं खेलेंगे बड़ी बात यह भी है कि आईपीएल में श्रीलंकाई खिलाड़ियों को एसपीएल से ज्यादा पैसा मिलता है।

ऐसा नहीं है कि श्रीलंका में पहली बार किसी घरेलू क्रिकेट लीग का आयोजन किया जा रहा है। इससे पहले भी श्रीलंका में क्रिकेट लीग का आयोजन किया गया था लेकिन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इसे कुछ खास लाइमलाइट नहीं मिली थी और न ही इसमें ज्यादा विदेशी खिलाड़ी थे जिसके चलते 1-2 सीजन में ही वह क्रिकेट लीग समाप्त हो गईं थी।

 

 

 

ये भी पढ़े:

जाह्नवी कपूर और गुंजन सक्सेना में है काफी समानता |

बाबा रामदेव ने आईपीएल को बताया था भारतीय संस्कृति के लिए खतरा |

‘विकास मरा है, मैं अभी जिंदा हूं’ इंजीनियर को दिया अपराधी के रिश्तेदार ने धमकी |

‘किसी के बाप का हिंदुस्तान थोड़ी है’ कुछ यूं किया था राहत इंदौरी ने CAA का विरोध |

कोरोना काल में इंटरनेशनल यूथ डे पर इस बार क्या है खास? ऑनलाइन होगे इंवेट |