विकास दुबे के आत्मसमर्पण से एनकाउंटर का पूरा घटनाक्रम, शक के घेरे में पूरा मामला

विकास दुबे के आत्मसमर्पण से एनकाउंटर का पूरा घटनाक्रम, शक के घेरे में पूरा मामला

उज्जैन के महाकाल मंदिर के पास से पकड़ा गया था

गुरुवार सुबह पुलिस ने उसे उज्जैन महाकाल मंदिर के पास से पकड़ा था। उसके बाद रात करीब आठ बजे वहां से कानपुर के लिए सड़क मार्ग से लेकर रवाना हुई थी।

कानपुर देहात की सीमा में पहुंची एसटीएफ की टीम :

जालौन जिले के आटा टोल प्लाजा से विकास दुबे को लेकर निकला काफिला करीब 5:38 बजे कालपी का यमुना पुल पार कर कानपुर देहात की सीमा में प्रवेश कर गया।

आटा टोल प्लाजा से निकला काफिला :

एट टोल प्लाजा से करीब 42 किलोमीटर दूर जालौन जिले के आटा टोल प्लाजा से विकास दुबे को लेकर काफिला 5.20 बजे निकला। करीब एक घंटे से हो रही तेज बारिश के बीच सुरक्षा को लेकर पुलिस फोर्स पानी में भीगते हुए डटा रहा। आटा टोल से विकास दुबे के निकलने के बाद ही एट टोल से ट्रैफिक खोला गया।

आटा व कालपी यमुना पुल पर भारी पुलिस फोर्स :

झांसी-कानपुर हाईवे से चला एसटीएफ की टीम काफिला आटा टोल प्लाजा होते हुए कालपी यमुना पुल को पार कर कानपुर देहात की सीमा में प्रवेश करेगा। सुरक्षा को लेकर आटा व कालपी यमुना पुल पर भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया है।

उरई पहुंची एसटीएफ की टीम :

सुबह करीब 4:45 बजे एसटीएफ की टीम उरई के एट टोल से विकास दुबे को लेकर निकली है। एसटीएफ की छह गाड़ियां साथ में हैं। वहां से करीब सवा घंटे में कानपुर देहात के बारा टोल पहुंचने की उम्मीद है।

झांसी पहुंची एसटीएफ की टीम :

झांसी में रात करीब 3:15 बजे रक्सा बार्डर से एसटीएफ की टीम विकास दुबे को लेकर कानपुर के लिए रवाना हुई। इस दौरान रक्सा टोल प्लाजा पर काफी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा। इस दौरान सुरक्षा की दृष्टि से आवागमन बंद किया गया। झांसी पुलिस यहां से विकास दुबे को उरई की सीमा तक छोड़ेगी। इस दौरान पुलिस ने मीडिया कर्मियों को भी आगे नहीं बढ़ने दिया।

दतिया के रास्ते कानपुर ले जाने की संभावना :

रात करीब एक बजे शिवपुरी से चलने के बाद भी 2:30 बजे तक विकास दुबे को लेकर आ रही एसटीएफ टीम रक्सा नहीं पहुंची है, जबकि शिवपुरी से झांसी एक घंटे का रास्ता है। शिवपुरी से झांसी के बीच एक रास्ता दतिया की तरफ भी जाता है। सम्भावना जताई जा रहा है कि एसटीएफ की टीम दतिया के रास्ते कानपुर लेकर जा रही है।

शिवपुरी टोल प्लाजा से निकली टीम :

रात करीब 1:00 बजे शिवपुरी टोल प्लाजा से निकली विकास दुबे को लेकर एसटीएफ की टीम। विकास दुबे स्कार्पियो में बैठा है। शिवपुरी निकलने के बाद एसटीएफ टीम की लोकेशन गायब है। रक्सा टोल प्लाजा पर तैनात पुलिस भी कुछ नहीं बता पा रही है।

झांसी के रक्सा बॉर्डर पर यूपी पुलिस अलर्ट : देर रात 12:30 बजे उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के रक्सा बॉर्डर पर तैनात पुलिस बल अलर्ट पर है। यहां दुर्दांत अपराधी विकास दुबे के आने का इंतजार कर रही है। विकास दुबे को लेकर एसटीएफ की टीम कुछ देर में ही यहां लेकर आने वाली है। यहां से झांसी पुलिस विकास दुबे को लेकर उरई की सीमा तक छोड़ेगी। रक्सा टोल पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम हैं।

सड़क मार्ग से ला रही यूपी पुलिस :

उत्तर प्रदेश पुलिस का काफिला उसे सड़क मार्ग से ले गया। मध्य प्रदेश पुलिस ने दुबे के साथ दो वकीलों और शराब कंपनी के मैनेजर के साथ ही चार अन्य को भी हिरासत में लिया है। मैनेजर आनंद गैंगस्टर दुबे का दोस्त बताया जा रहा है। इसी ने विकास को उज्जैन बुलाया था। हालांकि, पुलिस ने इस संबंध में कोई अधिकृत जानकारी नहीं दी है। गुरुवार रात करीब 9:30 बजे उत्तर प्रदेश पुलिस का काफिला उसे सड़क मार्ग से ले गया।

स्थानीय लोगों की सूचना पर पकड़ी गई पत्नी :

विकास की पत्नी रिचा अपने बेटे के साथ लखनऊ में अपने मकान के पास से गुरुवार रात को स्थानीय लोगों की सूचना पर पकड़ी गई। लोगों ने रिचा और उसके बेटे को देखकर डायल 112 पर फोन किया था। इस बीच एसटीएफ की टीम भी वहां पहुंच गई और कृष्णा नगर पुलिस की मदद से उनको गिरफ्तार कर लिया। एसटीएफ उन्हें कानपुर ले गई। वहां उनका परिजनों से आमना-सामना कराया जाएगा।

यूपी पुलिस ने 50-50 हजार के इनामी साथी मार गिराए :

विकास दुबे के गुर्गे 50 हजार के इनामी प्रभात मिश्र को एसटीएफ व कानपुर पुलिस की संयुक्त टीम ने पनकी में मार गिराया। गुरवार सुबह फरीदाबाद से रिमांड पर लाते वक्त गाड़ी खराब होने पर उसने दारोगा की पिस्टल छीनकर भागने की कोशिश की थी। गोलीबारी के दौरान एसटीएफ के दो सिपाही भी घायल हो गए। वहीं, इटावा-कानपुर नेशनल हाईवे पर कार लूटकर भागे विकास के दूसरे गुर्गे 50 हजार इनामी बउआ उर्फ प्रवीन दुबे को इटावा पुलिस ने ढेर कर दिया। फरार हुए उसके तीन साथियों की तलाश में कांबिंग कराई जा रही है।

 

 

 

ये भी पढ़े:

विकास दुबे के फ़िल्मी एनकाउंटर के बाद भड़की माँ |

भारतीय सेना ने अब बैन किए 89 मोबाइल एप्प |

चीन से चंदा लेने पर गांधी परिवार के तीन ट्रस्टों की जांच के लिए समिति गठित |

भारतीय रेलवे की प्राइवेट ट्रेन में मिलेगी फ्लाइट जैसी सुविधा |

बेटियों के भविष्य के लिए केंद्र सरकार की इस योजना का उठाए लाभ |