सुशांत मामले में CBI जांच के 26 दिन पूरे, हुआ ये बड़ा खुलासा
/

सुशांत मामले में सीबीआई की जांच को 26 दिन पूरे, अब तक हुआ ये बड़ा खुलासा

देश की सर्वोच्च अदालत ने 19 अगस्त को सुशांत मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी थी। कोर्ट का फैसला आने के बाद अगले ही दिन सीबीआई टीम ने मुंबई में डेरा डाल दिया था।

मुम्बई- देश की सर्वोच्च अदालत ने 19 अगस्त को सुशांत मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी थी। कोर्ट का फैसला आने के बाद अगले ही दिन सीबीआई टीम ने मुंबई में डेरा डाल दिया था। सुशांत से जुड़े हुए लोगों से लगातार पूछताछ की जा रही है। जिस फ्लैट में सुशांत का शव मिला था, वहां घंटों तक मुआयना किया गया था।

सुशांत की मौत का सच जानने के लिए सीबीआई ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी। सीबीआई को सुशांत मामले की जांच करते हुए 26 दिन हो गए हैं। आइए आपको बताते हैं कि इन 26 दिनों में सीबीआई जांच कहां तक पहुंची।

सुशांत की हत्या के नहीं मिले सबूत

सुशांत की मौत के मामले में सीबीआई के सूत्रों का कहना है कि उन्हें अब तक अभिनेता की हत्या का कोई, सुराग नहीं मिला है। जो भी तथ्य सामने आए हैं उनसे यही सिद्ध हुआ है कि सुशांत ने सुसाइड किया है। एनसीबी की जांच में पता चला है कि 7-8 महीने से सुशांत बहुत ज्यादा ड्रग्स लेने लगे थे। वो 20 से 25 बड्स तक लिया करते थे। इतनी डोज बहुत बड़े ड्रग्स एडिक्ट ही ले पाते हैं।

रिया चक्रवर्ती के भाई शौविक चक्रवर्ती ने एनसीबी को बताया था कि सुशांत के लिए 5 ग्राम गांजा लाते थे जिससे 20 सिगरेट बन सकती हैं। सीबीआई सुशांत केस में शुरुआत से ही इस दिशा मे जांच कर रही थी कि यह हत्या है या आत्महत्या। इस मामले की तह तक जाने के लिए सीबीआई ने घटनास्थल का फोरेसिंक निरीक्षण भी कराया और सुशांत की मौत का डमी टेस्ट भी।

इसके साथ ही सीबीआई ने इस मामले में पोस्टमार्टम करने वाले डाक्टरों समेत सुशांत के आसपास रहने वाले सभी किराएदारों से भी लगातार कई दिन तक गहन पूछताछ की। अब तक कई ऐसे तथ्य मिले हैं, जिनसे सुशांत की मौत को सीबीआई आत्महत्या मान रही है।

ईडी के हाथ भी रहे हैं खाली

सुशांत मामले की अब तक की जांच मे ईडी के हाथ भी खाली हैं। सुशांत सिंह मौत मामले मे ईडी को अभी तक ऐसा कोई सबूत हाथ नहीं लगा है, जिससे यह साबित होता हो कि 15 करोड रुपये रिया या उसके परिजनो के खाते में गए और मनी लांड्रिग हुई।

इसके अलावा ईडी ने रिया के खर्चों को लेकर कई सवाल किए थे। पर सूत्रों के मुताबिक अभी तक ऐसा कोई भी ठोस सबूत ईडी के हाथ नहीं आया है जिससे कि ये साबित हो कि रिया ने अपनी आय से ज्यादा खर्च किया है।

एनसीबी को इस मामले में मिली है सफलता

एनसीबी को इस मामले में कुछ सफलता जरूर मिली है। एनसीबी ने इस मामले में रिया समेत कई लोगों को गिरफ्तार किया है। वहीं जांच एजेंसियो का मानना है कि एनसीबी की तरफ से रिया की गिरफ्तारी का सुशांत की मौत से कोई लेना देना नहीं है। एनसीबी ने अब तक रिया और उनके भाई समेत कुल 10 लोगों की गिरफ्तारी की है।

इन 10 लोगों में सुशांत के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा, सुशांत के स्टाफ दीपेश सावंत समेत ड्रग सप्लायर जैद विलातरा, बासित परिहार, अनुज केसवानी, कैजान इब्राहिम, अब्बास अली लखानी और कर्ण अरोड़ा शामिल हैं। ड्रग्स लेन-देन के मामले में अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती को आठ सितंबर को गिरफ्तार कर 22 सितंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

रिया को एनडीपीएस एक्ट की धारा 8C, 22, 27A 28 और 29 के तहत गिरफ्तार किया गया है, जिसमें ड्रग्स की तस्करी, ड्रग्स लेने के लिए बरगलाने और षड्यंत्र में शामिल होने का आरोप है। हालांकि इस बात की कहीं से आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है कि रिया के पास से एनसीबी को कोई ड्रग मिला है या फिर क्या वो उनका सेवन करती थीं।

विसरा रिपोर्ट का इंतजार कर रही जांच एजेंसियां

एम्स की फोरेंसिक विभाग के डॉक्टरों की टीम अब सुशांत सिंह राजपूत की विसरा रिपोर्ट की जांच कर रही है। विसरा रिपोर्ट से ये पता चल सकता है कि सुशांत के शरीर में जहर या ड्रग्स जैसी कोई चीज मौजूद थी या नहीं। ये रिपोर्ट सुशांत मामले की जांच को नई दिशा दे सकती है।

 

 

 

 

 

ये भी पढ़े:

सुशांत के मैनेजर के इस खुलासे के बाद बढ़ी रिया की मुसीबतें |

टंकी में मिला 52 किलो विस्फोटक सेना ने टाला पुलवामा जैसा हमला |

ड्रग्स मामले में नाम आने पर हाईकोर्ट पहुंची रकुल प्रीत सिंह, रिया पर लगाए ये आरोप |

आज का राशिफल : वृश्चिक राशि के लिए अच्छा है आज का दिन, बाकी राशियों का जाने हाल |

3, 12, 21और 30 को जन्म लेने वालों के लिए अच्छा है आज का दिन, जाने बाकी लोगों के लिए कैसा होगा |