गोविंदा ऐसे नहीं हैं नंबर 1 हीरो, इतने करोड़ की सम्पत्ति के हैं मालिक

बॉलीवुड और फिल्म इंडस्ट्री में अभिनेता एक पुराना नाम हैं, जिन्होंने अपनी अदाकारी और हंसोड़ अंदाज से लोगों को अपना दीवाना बना बनाया है, इसलिए उन्हें सुपरस्टार कहां जाता है। गोविंदा का असली नाम गोविंद अहूजा है, जिन्होंने अपनी फिल्मों से न केवल लोगों को मनोरंजन दिया बल्कि जिंदगी की हकीकत और नसीहतों से भी रूबरू कराया।

गोविंदा ऐसे नहीं हैं नंबर 1 हीरो, इतने करोड़ की सम्पत्ति के हैं मालिक

कब की थी शुरुआत

गोविंदा ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत 1986 में की थी। उनकी पहली फिल्म इल्जाम थी। अपना अलग कॉमिक अंदाज और डांस का हुनर उन्हें अन्य अभिनेताओं से अलग करता है, इसी कारण उन्हें मनोरंजन की दुनिया में अधिक पसंद किया जाता है, जिसे हर उम्र के लोग बिना किसी हिचक के फैमली के साथ देख सकें।

सक्सेसफुल रहा है गोविंदा का करियर

गोविंदा ने अपने अभिनय के दम पर इंडस्ट्री में अपने लिए जगह बनाई थी, उन्होंने करियर में करीब 165 से अधिक फिल्मों में काम किया है। 1992 के रोमांटिक ड्रामा शोला और शबनम में एक शरारती युवा एनसीसी कैडेट के रूप में गोविंदा ने अपनी भूमिका में बेहतरीन अभिनय किया था।

गोविंदा ऐसे नहीं हैं नंबर 1 हीरो, इतने करोड़ की सम्पत्ति के हैं मालिक

गोविंदा बैक-टू-बैक फिल्मों जैसे आंखें, राजा बाबू, कुली नंबर 1, हीरो नंबर 1, दीवाना मस्ताना, दुल्हे राजा, बड़े मियां, छोटे मियां, अनाड़ी नंबर 1, हसीना मान जाएगी, साजन चले ससुराल और जोड़ी नंबर 1 जैसी दमदार फिल्मों के दम अपे फैंस के दिलों में जगह बना चुके थे। उनका ये करियर ग्राफ बहुतों को खटक भी रहा था, लेकिन उनके फैंस उन्हें पसंद कर रहे थे उन्होंने डांस के कई शोज में एक जज के तौर पर भी काम किया है।

संपत्ति का जखीरा

गोविंदा की संपत्ति को लेकर चली खबरों की मानें तो 2020 में गोविंदा की कुल संपत्ति 151.28 करोड़ रुपये (20 मिलियन डॉलर) आंकी गई है। गोविंदा की नेटवर्थ उनके ब्रांड एंडोर्समेंट के कारण है। गोविंदा ने अपने फिल्मी करियर में सबसे अधिक 90 के दशक में नाम कमाया और खान, कपूर, कुमार जैसे अभिनेताओं को पीछे छोड़ दिया।

 

 

Hind Now Trending : गुरुकेतु से होगा राशियों में परिवर्तन | चेयरमैन शाहनवाज आलम लखनऊ में गिरफ्तार | घर 
में आग लगने से मासूम की जलकर मौत | कांग्रेस पर भड़कीं बीएसपी सुप्रीमो मायावती | राज्य विश्वविद्यालयों की 
परीक्षाएं हों निरस्त | प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 30 जून को शाम 4 बजे करेंगे देश को संबोधित |

Leave a comment

Your email address will not be published.