आनंद महिंद्रा उठाएंगे मजदूर के बेटे की पढ़ाई का खर्च
/

आनंद महिंद्रा उठाएंगे मजदूर के बेटे की पढ़ाई का पूरा खर्च, जानें वजह

नई दिल्ली: हाल ही में सोशल मीडिया पर एक तस्वीर काफी तेजी से वायरल हो रही थी, जिसमें एक युवक अपने बेटे को परीक्षा दिलाने के लिए 105 किमी. साइकिल चलाकर परीक्षा सेंटर पहुंचा था। ये तस्वीर देखकर हर कोई युवक के हौसले की दाद दे रहा है। वहीं सोशल मीडिया पर एक्टिव उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने बेटे की पढ़ाई के लिए युवक की मेहनत को देखकर उसकी हिम्मत को सलाम किया है।

इसके साथ ही मध्य प्रदेश के धार में मजदूरी कर अपना परिवार चलाने वाले शोभाराम के बेटे की पढ़ाई का खर्च उठाने की बात भी की है।  इस वाक्ये के बाद सोशल मीडिया पर लोग जमकर महिंद्रा के इस कार्य की सरहाना कर रहे हैं, वहीं अशीष के पिता ने भी उनको धन्यवाद दिया है।

आनंद महिंद्रा ने अपने ट्वीट में शोभाराम को एक हीरो बताते हुए लिखा है-

‘एक होरो अभिभावक, जो अपने बच्चों के लिए ऊंचे सपने देखता है, जो देश के विकास को गति देती है।  महिंद्रा राइज में हम इसे राइज स्टोरी कहते हैं।  हमारा फाउंडेशन आशीष के आगे की पढ़ाई का खर्च उठाएगी।  क्या कोई पत्रकार हमें इनसे संपर्क करने में मदद कर सकता है।’

इस ट्वीट पर अब तक 37 हजार लाइक्स भी मिल चुके हैं।

ये है पूरा मामला :

आपको बता दें मध्य प्रदेश के धार जिले में 38 वर्षीय शोभाराम नाम के व्यक्ति ने अपने बेटे आशीष की 10वीं की सप्लीमेंट्री परीक्षा थी। लेकिन, कोरोना के चलते पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद है, जिसके चलते बेटे को परीक्षा दिलाने के लिए शोभाराम ने आठ घंटे  में 105 किलोमीटर का सफर रात में साइकिल से पूरा किया।

बता दें कि शोभाराम 17 अगस्त की रात को खाने की सामग्री के साथ अपने गांव धार जिले के बयड़ीपुरा से निकले थे। जिसके बाद 18 अगस्त की सुबह अपने बेटे आयुष को लेकर धार जिले के ही भोज कन्या स्कूल पहुंच गए थे। बताते चलें कि जिस साइकिल से शोभाराम ने सफर किया था, वह बेटे आयुष परिहार को कक्षा 9 में सरकारी योजना के तहत मिली थी।

 

 

 

ये भी पढ़े:

शर्मनाक: महिला के साथ 139 लोगों ने किया रेप, बोली नेता से लेकर PA, वकील सब हैं शामिल |

शर्मनाक : हवसी पिता ने अपने 15 साल की बेटी को बना दिया माँ, नाबालिग ने बच्ची को दिया जन्म |

सुशांत केस पर पहली बार बोले अक्षय कुमार, कहा कुछ ऐसा जीता हर भारतीय का दिल |

IAF पर लगा महिलाओं के साथ भेदभाव का आरोप, सामने आई गुंजन सक्सेना कही ये बात |

सुशांत के दोस्त का बड़ा खुलासा 3 कॉल में छिपा है हत्या का रहस्य, मुझे पता है हत्यारों के नाम |