भारतीय सेना के शहीद जवान की पत्नी के लिए सरकार ने खोला खजाना,
/

शहीद कर्नल संतोष बाबू की पत्नी बनी डिप्टी कलेक्टर, जल्द मुख्यमंत्री सौंपेंगे 5 करोड़ का चेक

भारत चीन विवाद के बीच 15 जून को भारतीय सेना के 20 जवान शहीद हो गए थे। लद्दाख की गलवान घाटी में शहीद सैनिकों में एक नाम भारतीय सेना के कर्नल संतोष बाबू का भी शामिल था। चीन की इस जमीन हड़पने की बीमारी का तो भारत सरकार और भारतीय सेना कूटनीतिक और सैन्य स्तर पर इलाज कर ही रही है, लेकिन जो संतोष बाबू शहीद हुए हैं, उनके परिवार का ख्याल रखना भी देश की ही जिम्मेदारी है।

कौन हैं संतोष बाबू

भारतीय सेना के जांबाज अफसर 37 वर्ष की आयु मे गलवान घाटी में कपटी चीनी सैनिकों के साथ झड़प में शहीद हो गए थे, वो शुरू से ही भारतीय सेना में जाने के इच्छुक थे सेना में भर्ती के बाद उनकी पहली पोस्टिंग भी जम्मू-कश्मीर में ही हुई थी। अपने जज्बे और देश सेवा के भाव ने ही भारतीय सेना में उन्हें कर्नल के जिम्मेदार पद पर पहुंचाया था।

पत्नी को मिली सौगात

चीनी सैनिकों के साथ झड़प में शहीद भारतीय सेना के जांबाज संतोष बाबू की पत्नी को तेलंगाना सरकार ने सम्मान के रुप में सौगात दी है। भारतीय सेना की बिहार रेजिमेंट में शामिल संतोष बाबू की पत्नी को 5 करोड़ रुपए दिए जाएंगे। ये रुपए स्वयं तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव देंगें, जिससे वो अपना बाकी का जीवन पूरी सहजता से बिना किसी परेशानी के व्यतीत कर सकें।

डिप्टी कलेक्टर की नौकरी

केवल पांच करोड़ रुपए ही नहीं बल्कि के चंद्रशेखर राव की सरकार ने भारतीय सेना के शहीद जवान संतोष बाबू की पत्नी को उनकी योग्यता के अनुसार डिप्टी कलेक्टर के पद की नियुक्ति भी दी है, उन्हें सूर्यपेट जिले में नौकरी दी गई है, जो कि तेलंगाना सरकार द्वारा उठाया गया एक सराहनीय कदम है, इसके चलते केसीआर सरकार की तारीफ भी की जा रही है।

 

 

 

HindNow Trending : कोरोनावायरस के बीच हुई थी शादी | बॉलीवुड अभिनेत्री का दावा सुशांत की हत्या की गयी है | 
इरफ़ान खान की पत्नी ने सुशांत सिंह राजपूत मामले में तोड़ी चुप्पी | सुशांत सिंह राजपूत के मामले में आया नया मोड़ | 
सलमान खान का समर्थन कर बुरे फंसे सुनील ग्रोवर