यूपी एसटीएफ का चीन के खिलाफ बड़ा कदम, सभी चाइनीज़ ऐप हटाने का दिया आदेश

चीन के साथ चल रहा विवाद अब भारतवासी का खून खौलआ रहा है. चीन के जो एप्प अभी तक भारतीय युवाओं की पहली पसंद बने हुए थे उनको डिलीट करने का अभियान तो पहले ही यूथ चला चुके है, लेकिन 19 जून को उत्तर प्रदेश STF ने एक गंभीर फैसला लेते हुए सभी से अपने अपने मोबाइल से चाइनीज ऐप्स को डिलीट करने के निर्देश दिए है.इसी के साथ चेतावनी दी है की जल्द ही ये ऐप डिलीट कर दें क्योंकि इससे आपके व्यक्तिगत डेटा चोरी होने का भी अंदेशा बना हुआ है.

UP STF ने दिया चाइनीज ऐप हटाने का आदेश

यूपी एसटीएफ का चीन के खिलाफ बड़ा कदम, सभी चाइनीज़ ऐप हटाने का दिया आदेश

शुक्रवार को आई जी एसटीएफ अमिताभ यश ने मोबाइल से china ऐप हटाने का आदेश दिया है. ताकी सभी लोग अपने मोबाइल से टिक टॉक, यू सी ब्राउज़र जैसे मनोरंजक ऐप को डिलीट कर सके.

यहाँ आपको जानकारी देते चलें कि गूगल प्ले स्टोर से रिमूव चाइना ऐप को कुछ ही हफ्तों में 70 लाख से अधिक बार डाउनलोड किया जा चुका है. इसी के साथ अन्य तमाम सोशल मीडिया के माध्यम से पूरे देश मे गत कई दिनों से चाइना एप्प डिलीट करने का अभियान लोगों ने छेड़ रखा है. मगर इसने रफ़्तार तब और पकड़ी ज़ब चीन ने अपनी नापाक हरकत दिखाते हुए लद्दाख के गवलन घाटी मे नियमों का उल्लंघन कर हिंसा को अंजाम दिया और भारत के 20 जवान शहीद हुए. इसके बाद तो रिमूव ऐप को तेज़ी से डाऊनलोड किया गया.

इस के सहयोग से यूजर्स को आसानी से चीन की मोबाइल एप्स की जानकारी हो सकती है. बस फिर क्या सीमा विवाद बढ़ने के बाद से ही भारत के विभिन्न सोशल मीडिया पर चीनी एप्स को हटाने की अपील शुरू हो गईं. तो वहीँ अमिताभ यश ने ये भी कहा है की चाइना ऐप से व्यक्तिगत डाटा भी चोरी होने की आशंका है. इसलिए जल्द से जल्द मोबाइल से चाइना ऐप डिलीट कर दे.

 

 

HindNow Trending: बेहद खूबसूरत लड़की को डेट कर रहे हैं सैफ अली खान के बेटे इब्राहिम | 
जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबल कर रहे आतंकियों का सफाया | सुशांत सिंह राजपूत ने 3 दिन पहले ही दे दिए 
थे आत्महत्या के संकेत | कोरोनावायरस के इलाज के लिए आई अच्छी खबर | सुशांत सिंह राजपूत के
आत्महत्या से पटना के लोगों में आक्रोश

Leave a comment

Your email address will not be published.