शहीद सुनील कुमार की अंतिम यात्रा में उमड़ा जनसैलाब, लोगों का एक ही सवाल शहादत का बदला कब ?
//

शहीद सुनील कुमार की अंतिम यात्रा में उमड़ा जनसैलाब, नम आँखों से लोगों ने दी विदाई, देखें तस्वीरें

लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सेना के साथ हिंसक झड़प में शहीद सुनील कुमार का शव जब गुरुवार को बिहार के सिकरिया क्षेत्र के तारापुर गांव पहुंचा तो पूरे गांव में शोक की लहर दौड़ गई। शहीद सुनील के शव को देख गांव नम आंखों के साथ भारत माता की जय के नारे लगाने लगे ये पूरा सिलसिला उनके अंतिम संस्कार तक यूं ही चलता रहा शहीद सुनील कुमार के अंतिम संस्कार में एक बड़ा जनसैलाब उमड़ पड़ा जिसे कंट्रोल करने में प्रशासन को भी मसक्कत करनी पड़ी।

शहादत का बदला कब

शहीद सुनील कुमार के‌ पिता समेत पूरे परिवार की आंखों में आंसुओ का सैलाब दिखा तो शहीद की अंति यात्रा में लोगों का सैलाब दिखाई दिया। शहीद के पिता खबर सुनने के बाद मौन से है उनके मन‌ में भी बस एक ही सवाल है कि अखिर कब इस शहादत का बदला लिया जाएगा। उन्हें दुख के साथ इस बात का गर्व भी है कि उन्होंने अपने राष्ट्रभक्त बेटे को खो दिया लेकिन सवाल‌बस एक ही है कि सरकार कब शहीद सनील कुमार के हत्यारों और चीनी सैनिकों से बदला लेगी।

लगे भारत माता की जय के नारे

शहीद सुनील कुमार की शवयात्रा में जनसैलाब उमड़ आया देश के लिए सर्वोच्च बलिदान देने वाले सुनील कुमार को श्रद्धांजलि और अंतिम विदाई की शवयात्रा में लोगों भारत माता की जय नारे लगाकर शहीद सुनील और भारतीय सेना के प्रति अपनी संवेदनशील भावनाएं प्रकट की। एक तरफ जहां शहीद सुनील कुमार के परिवार वाले मां, पिता, पत्नी के आंसू रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं तो वहीं गांव वाले इस दुख की घड़ी में उनका हौसला बढ़ाने को कदम-कदम पर उनके साथ दिखाई दे रहे हैं।

गौरवान्वित है गांव का हर शख्स

जब से गांव वालों खबर लगी कि उनके गाव का लाल शहीद सुनील कुमार देश के लिए सर्वोच्च बलिदान देकर तिरंगे में लिपट कर गांव लौट रहा है तब से गांव वालों की आंखों में आंसू तो है लेकिन गौरवान्वित होने का भाव उससे कही ज्यादा है। खबर मिलने के बाद ही लोग शहीद सुनील कुमार के अंतिम दर्शन को उनके घर की तरफ तिरंगे के साथ पहुंचने लगे यही कुछ ही देर डीजे और बैंड बाजा तक बजने लगे जिनमें से केवल शहादत और देशभक्ति की धुने निकलने लगीं। शहीद कुमार को पूरे सम्मान के साथ छपरा घाट में हजारों लोगों के सैलाब के बीच अंतिम सलामी देते हुए मुखाग्नि दी गई।

 

HindNow Trending : सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या केस में पुलिस को मिले बड़े सबूत | कोरोनावायरस से भारत
में एक दिन में मरे 2,003 मरीज | भारत-चीन विवाद | इटली और इजरायल का दावा बना ली है कोरोनावायरस की दवा | 
सुशांत सिंह राजपूत के अधूरे सपने