चीन बॉर्डर पर तैनात जवान की पत्नी और बेटी से गांव मे छेड़छाड़

शर्मनाक: चीन बॉर्डर पर तैनात है जवान यहाँ गाँव में पत्नी और बेटी के साथ हो रहा छेड़छाड़, मदद के बदले पुलिस मांग रही दावत

उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले मे खाकी से जुड़ी लगातार दो बड़ी घटनाये इस बात का संकेत है कि वहाँ शासन,  प्रशासन का कोई खौफ छोटी सोच रखने वाले पुलिस कर्मियों को नहीं है. प्रदेश के तमाम हिस्सों से कोरोना काल मे जहाँ खाकी का मार्मिक चेहरा सामने आया है, तो वहीँ देवरिया की दो घटनाओ ने खाकी को शर्मसार भी किया है.
पहली घटना में जहाँ भटनी थाने के इंस्पेक्टर भीष्मपाल सिंह यादव पर अश्लील हरकत का आरोप लगा और उसे बर्खास्त किया गया, तो  वहीँ दूसरा मामला लार क्षेत्र से सामने आया है. जहाँ एक ओर पीड़ित के पति अपनी जान की बाज़ी लगाकर देश की रक्षा मे लगे हैं, तो वहीँ उनके परिवार की मदद करने के बजाए देश के अंदर रहने वाले पुलिसकर्मी अपनी ड्यूटी को ताख पे रखे हुए है.
इस पर सवाल उठता है कि जिन पुलिस कर्मियों को देश के अंदर रहकर आम जनमानस की सुरक्षा की ज़िम्मेदारी दी जाती है, अगर वही लोगों से गलत बर्ताव करेगी तो पीड़ित अपनी फरियाद लेकर कहाँ जाएँ. दरअसल लार थानाक्षेत्र के रहने वाले एक व्यक्ति सेना के जवान हैं। वर्तमान में उनकी तैनाती चीन बॉर्डर पर लद्दाख में है। पत्नी और दो बेटियां गांव से सटी जगह पर स्थित मकान मे रहती हैं।
जवान की पत्नी ने बताया कि दूसरे गांव के एक जाति विशेष के लोग यहां जानवर चराने के लिए आते हैं। घर मे किसी पुरुष के न होने पर बेटियों और मुझसे छेड़खानी करते हैं। विरोध करने पर मकान पर ईंट और पत्थर चलाते हैं। 5 जून को उन लोगों ने मेरी और बेटी की पिटाई की थी।
इस मामले में लार पुलिस ने केस तो दर्ज कर लिया, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की। इस पर वो लोग और हावी हो गए, इस पर उन्होंने एसपी से शिकायत कर दी. एसपी ने थाना प्रभारी, हलका इंचार्ज और सभी सिपाहियों को तलब किया है। बता दें कि गुरुवार को मां-बेटी एसपी कार्यालय पहुंचीं और एसपी से पूरी बात बताई। दोनों ने बताया कि एक सिपाही आया और कहा कि मदद तभी करेंगे जब अपने घर पर पार्टी दोगी।
जवान की पत्नी ने कहा कि जब मेरे घर कोई पुरुष सदस्य नहीं है तो उनको कैसे पार्टी दें. हालांकि एसपी डॉ. श्रीपति मिश्र ने मामले को गंभीरता से लेते हुए लार थाना प्रभारी, हलका दरोगा और उस हल्के के सभी सिपाहियों को तलब किया है। माना जा रहा है कि इस मामले से जुड़े लोगों पर भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी.
Hindnow Trending : लद्दाख पहुंच गए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी | प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लद्दाख पहुंचना कांग्रेस 
को नहीं आया पसंद | अखिलेश यादव के संसदीय क्षेत्र के सपा नेता ने खून से लिखी चिट्ठी | पढ़ाई के मामले 
में काफी फिसड्डी हैं ये बॉलीवुड अभिनेत्रियाँ | चपरासी की नौकरी कर भरे फ़ीस के पैसे |