बहन को बचाने के लिए सपा नेता ने लिख डाला खून से खत 

अखिलेश यादव के संसदीय क्षेत्र के सपा नेता ने खून से लिखी चिट्ठी, योगी सरकार ने तुरंत की मदद

आजमगढ़ सपा नेता लालजीत का खून से लिखा खत सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है जिसमें पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को उनकी ही पार्टी के कार्यकर्ता अपनी बहन के इलाज के लिए गुहार लगा रहे हैं. इस मार्मिक खत का मामला मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  तक पहुंचा फिर देखिए आगे क्या हुआ….
 कोरोना काल मे आम नागरिक ही नहीं बल्कि राजनीतिक पार्टी के लोग भी आर्थिक तंगी से लेकर तमाम मुश्किलों से जूझ रहे हैं, ताजा मामला सामने आया है समाजवादी पार्टी (सपा ) के आजमगढ़ जिले के कार्यकर्ता लालजीत यादव का जिन्होंने अपने खून से एक मार्मिक खत लिख कर बहन के इलाज के लिए न केवल पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव बल्कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी जानकारी दी है.
गौरतलब है कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव वर्तमान मे आजमगढ़ जिले से सांसद भी हैं. ऐसे मे उनके ही पार्टी के कार्यकर्ता लालजीत यादव का अपने खून से खत लिखकर बहन के इलाज के लिए गुहार लगाना चर्चा का विषय बना हुआ है. लालजीत यादव ने सपा मुखिया के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ से इलाज के लिए गुहार लगाई है.
इसकी जानकारी होने पर  सीएम के सूचना सलाहकार शलभमणि त्रिपाठी ने नेता लालजीत  यादव से बात करके बहन का इलाज कराने के लिए जांच रिपोर्ट मांगने के साथ डॉक्टरों को भी इस प्रकरण से अवगत कराने की जानकारी सोशल मीडिया के जरिए दे दी है.
समाजवादी युवजन सभा से जुड़े लालजीत ने जानकारी दी है कि उनकी बहन की किडनी खराब हो गई है. इसके इलाज के लिए केजीएमयू और एसजीपीजीआई जा चुके हैं। वहां से इनकार के बाद इलाज के लिए समाजवादी पार्टी सांसद को पत्र लिखने के बाद अब सीएम योगी आदित्यनाथ को भी खत लिखा है।
सोशल मीडिया पर इस खत के वायरल होने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सूचना सलाहकार शलभमणि त्रिपाठी ने ट्विटर पर ही  इलाज कराए जाने का विश्वास दिलाया है। साथ ही उन्होंने लालजीत यादव से फोन पर बात करके इलाज में मदद का विश्वास भी दिलाया। ट्विटर पर बहन के इलाज के लिए वायरल खून से लिखे खत पर सीएम के सूचना सलाहकार ने लालजीत यादव से इलाज के बारे में वार्ता होने की जानकारी देते हुए लिखा कि चिकित्सकों को उनके प्रकरण के बारे में बता दिया गया है। उनसे जांच रिपोर्ट मांगी गई है। उनकी बहन को अस्पताल में भर्ती कराने और इलाज में यथासंभव पूरी मदद भी की जाएगी.
Hindnow Trending : शर्मनाक: गाँव में पत्नी और बेटी के साथ हो रहा छेड़छाड़ | सुशांत के आरोपियों को सजा 
दिलाने के लिए तेजस्वी यादव ने उठाया ये कदम | अर्थी पर मालकिन का शव देखते ही कुत्ते ने भी कर ली आत्महत्या |
डिप्टी एसपी समेत आठ पुलिस कर्मी शहीद होने के बाद फूटा योगी आदित्यनाथ का गुस्सा | बॉलीवुड को 2020 ने 
दिया एक और गहरा जख्म