मदरसा बोर्ड टॉपर्स की बल्लेबल्ले, मिलेगा एक लाख के साथ लैपटॉप

मदरसा बोर्ड टॉपर्स की बल्ले-बल्ले,मिलेगा एक लाख के साथ लैपटॉप

मदरसा बोर्ड मे फर्स्ट, सेकंड, थर्ड पोजीशन पर आये बच्चों को एक एक लाख के साथ लैपटॉप भी दिया जायेगा. यह घोषणा अल्पसंख्यक कल्याण एवं  मुस्लिम वक्फ मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी ने की. वह बुधवार को इस बोर्ड का परीक्षा परिणाम जारी करते हुए कह रहे थे.
उन्होंने कहा कि उ०प्र० मदरसा शिक्षा परिषद लखनऊ की वर्ष 2020 की सेकेण्डरी (मुंशी/मौलवी), सीनियर सेकेण्डरी (आलिम), कामिल एवं फाजिल की परीक्षा में उत्तीर्ण होने प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त मेधावी छात्र/छात्राओं को रू० 1,00,000/-(रू० एक लाख मात्र) का चेक, टैबलेट, मेडल एवं प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया जायेगा। इस सम्मान राशि का व्यय अरबी-फारसी मदरसा विकास निधि से किया जायेगा।
सेकेंड्री तथा सीनियर सेकेंड्री के गणित एवं विज्ञान विषय में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले छात्र/छात्राओं को रू० 51,000/- (इक्कावन हजार मात्र) का चेक, एक टैबलेट, मेडल एवं प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया जायेगा।
उन्होंने  अरबी, फारसी मदरसा बोर्ड के परीक्षाफल की घोषणा करते हुए कहा  कि उ०प्र० मदरसा शिक्षा परिषद लखनऊ द्वारा सेकेंड्री (मुंशी/मौलवी) सीनियर सेकेंड्री (आलिम), कामिल एवं फाजिल की वर्ष 2020 की बोर्ड परीक्षाएं, जो दिनांक 25 फ़रवरी 2020 से शुरु हुई थी और 05 मार्च 2020 को समाप्त हो गईं थी. पूरे प्रदेश के 552 परीक्षा केन्द्रों में सम्पन्न हुई।
वर्ष, 2020 की बोर्ड परीक्षा में कुल 1,82,259 परीक्षार्थी सम्मिलित हुए, जिनमें से 97,348 छात्र तथा 84,911 छात्रायें थी। परीक्षार्थियों मेें कुल 1,38,241 छात्र-छात्राओं संस्थागत तथा 44,017 छात्र-छात्रायें व्यक्तिगत परीक्षार्थी के रूप  में सम्मिलित हुए।
बोर्ड परीक्षा वर्ष 2020 में कुल सम्मिलित परीक्षार्थियों (1,82,259) में से कुल 41,207 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे तथा कुल 1,41,052 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी।
मदरसा बोर्ड के परिणामों की घोषणा में देरी का कारण कोविड-19 बताते हुए मंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के चलते परीक्षा परिणाम घोषित करने में देरी हुई. परीक्षा में उपस्थित परीक्षार्थियों में से कुल 1,15,650 परीक्षार्थी उत्तीर्ण तथा कुल 25,402 परीक्षार्थी अनुत्तीर्ण हुए।
उत्तीर्ण परीक्षार्थियों का कुल प्रतिशत 81.99 है।
उत्तीर्ण परीक्षार्थियों में बालिका परीक्षार्थियों की संख्या-55,457 है एवं बालिकाओं का उत्तीर्ण प्रतिशत 84.42 है। कुल उत्तीर्ण बालक परीक्षार्थियों की संख्या-60,175 है एवं उत्तीर्ण बालकों का प्रतिशत 79.86 है।
उन्होंने मदरसे में पढ़ने वाले छात्र के एक हाथ में कुरान और दूसरे हाथ में लैपटाॅप हो इसका भी जिक्र किया। मंत्री ने कहा कि हमारी प्रतिबद्धता है कि मदरसे में पढ़ने वाले छात्र को मजहबी तालीम के साथ-साथ विज्ञान, तकनीकि और आधुनिक विषयों की भी  अच्छी जानकारी हो, जिससे वे समाज के मुख्य धारा में शामिल हो सके।
Hind Now Trending : 'सूर्यवंशी' का हिस्सा नहीं होंगे करण जौहर | 9 घंटे की पूछताछ में पुलिस से बोली संजना संघी| 
भारत से बाहर इन दो देशों में हो सकता है आईपीएल 2020 | कोरोनावायरस के चलते पहली बार वोटिंग नियमों
में हुआ ये बड़ा बदलाव | भारत ने कर ली चीन को जवाब देने की तैयारी | मासूम की जान बचाने के लिए 
अपनी जान पर खेल गया यह भारतीय जवान |