शातिर अपराधी विकास की माँ ने कहा उसे अब मर जाना चाहिए, मुझे कोई गम नहीं होगा

कानपुर एनकाउंटर : शातिर अपराधी विकास की माँ ने कहा उसे अब मर जाना चाहिए, मुझे कोई गम नहीं होगा

कितना बदनसीब होगा वो बेटा जिसकी माँ ही उसे जान से मार देने के लिए कह दे. शायद इसलिए भी कि जिन लोगों को उसने मारा आखिर वो भी तो किसी के बेटे थे, शायद उन्होंने उन माताओं का दर्द महसूस कर लिया, इसीलिए तो कह दिया कि मार दो मेरे बेटे को अब उससे मेरा कोई वास्ता नहीं. ज़ब माँ ही ऐसा कह दे तो भला उसे कौन बचा सकता है…. अपने बेटे की मौत की गुहार लगाने वाली माँ कोई और नहीं  विकास दुबे की माँ है.
कानपुर में हुई मुठभेड़ में डिप्टी एसपी समेत आठ पुलिस कर्मियों की हत्या करने वाले शातिर अपराधी विकास दुबे की मां सरला को जब बेटे की इस करतूत के बारे में पता चला तो वह क्रोध से उबल उठीं।
उन्होंने कहा कि
“विकास को मार दो मुझे कोई गम नहीं होगा। आठ पुलिस कर्मियों की हत्या करने वाले विकास को मैं बेटा नहीं मानती, न ही उससे मेरा कोई लेना देना है। उसकी मौत का मुझे कोई गम नहीं होगा।”
जहां एक ओर पुलिस की टीमें शातिर विकास की तलाश में ताबड़तोड़ दबिश दे रहीं हैं। वहीं, उसकी मां सरला भी बेटे की मौत की ही ईश्वर से दुआ मांग रही हैं। उन्होंने कहा कि वह विकास का मुंह नहीं देखना चाहती हैं। उसे उसके कर्मों की सजा मिलनी ही चाहिए।
उन्होंने बताया कि विकास पहले ऐसा नहीं था। उसने पीपीएन कॉलेज में पढ़ाई की थी। एयरफोर्स में नौकरी लग रही थी और फिर नेवी में, लेकिन इसे गांव वालों और राजनीति ने बर्बाद कर दिया। वह कई राजनैतिक दलों से जुड़ा रहा है।
विकास की मां ने बताया कि वह मुझे भी कभी नहीं देखने आया था। हाल ही में बिल्हौर की घटना के बाद मेरा बोलचाल उससे खत्म हो गया था। विकास को अब मर जाना चाहिए।
HindNow Trending : कौन है विकास दुबे जिसने थाने में घुसकर की थी राज्यमंत्री संतोष शुक्ल की हत्या |
कानपुर एनकाउंटर: शहीद पुलिस राहुल कुमार की मात्र 1 साल की है बेटी | गैंगेस्टर विकास दुबे और पुलिस 
के मुठभेड़ में 8 पुलिसकर्मी शहीद | शहीदों को श्रद्धांजलि देने अस्पताल पहुंचे योगी आदित्यनाथ | 8 पुलिसकर्मियों 
के शहीद होने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संभाली कमान | विकास दुबे का बड़ा बेटा लन्दन में कर रहा MBBS, 
छोटा कानपुर में 12वीं का छात्र |