मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने शहीदों के परीजनों को एक करोड़ राशि की घोषणा

शहीदों को श्रद्धांजलि देने अस्पताल पहुंचे योगी आदित्यनाथ, परिवार को नौकरी और 1 करोड़ो देने का किया वादा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दोपहर बाद कानपुर पहुंचे। वहां उन्होंने जाबांज शहीद पुलिस कर्मियों के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि हमारे शहीदों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। उन्होंने शहीद के परिवारीजनों को एक-एक करोड़ रुपये मुआवाजा राशि देने की घोषणा की। इसके साथ ही उनके परिवार के एक सदस्य को शासकीय सेवा में नौकरी देने का वादा किया।

मीडिया से बातचीत के दौरान मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि कर्तव्य पथ पर अपना सर्वश्व न्योछावर करने वाले आठ पुलिसकर्मियों को मेरी भाव भीनी श्रद्धांजलि।

शहीद पुलिस कर्मियों ने जिस तरह अपने असीम साहस औऱ कर्तव्य निष्ठा का दायित्व निभाया। उसे उत्तर प्रदेश कभी भूल नहीं पाएगा। शहीदों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।

मुख्यमंत्री योगी रिजेंसी अस्पताल पहुंचे। वहां पर शहीदों के परिवारीजनों से मिलकर उन्हें ढांढस बंधाया। इसके अलावा घायलों में छह पुलिसकर्मी और एक होमगार्ड का हाल लिया।

मुख्यमंत्री ने डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी, एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार को कुख्यात अपराधी विकास दुबे और उसके साथियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाई करने के निर्देश दिए हैं।

अपराधियों की धरपकड़ के लिए कानपुर मंडल के सभी जिले की सीमाओं को सील कर दिया गया है। जगह-जगह सघन वाहन चेकिंग चल रही है।

यहाँ देखें वीडियो

 

 

HindNow Trending : कौन है विकास दुबे जिसने थाने में घुसकर की थी राज्यमंत्री संतोष शुक्ल की हत्या |
कानपुर एनकाउंटर: शहीद पुलिस राहुल कुमार की मात्र 1 साल की है बेटी | गैंगेस्टर विकास दुबे और पुलिस के 
मुठभेड़ में 8 पुलिसकर्मी शहीद | 8 पुलिसकर्मीयों के शहादत पर भड़की कांग्रेस  | 8 पुलिसकर्मियों के शहीद होने 
पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संभाली कमान | विकास दुबे का बड़ा बेटा लन्दन में कर रहा MBBS, छोटा
 कानपुर में 12वीं का छात्र | शातिर अपराधी विकास की माँ ने कहा उसे अब मर जाना चाहिए