कानपुर एनकाउंटर: आठ पुलिसकर्मियों की शहादत के बाद गरमाई राजनीति चौतरफा घिरी योगी सरकार

8 पुलिसकर्मीयों के शहादत पर भड़की कांग्रेस, सपा और बसपा, शहीदों के परिवार को 1 करोड़ और नौकरी की मांग

कानपुर में बदमाशों से मुठभेड़ के दौरान डिप्टी एसपी समेत आठ पुलिस कर्मियों के शहीद होने के मामले में विपक्षी दलों ने योगी सरकार को चौतरफा घेरा है। सपा ने सत्तापक्ष और बदमाशों मिलीभगत का आरोप लगाया है। वहीं बसपा ने शहीद पुलिस कर्मियों के एक परिवारीजन को नौकरी की मांग की है। कांग्रेस ने भी शोक संवेदना व्यक्त करते हुए सरकार को घेरा है। वहीं आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने सरकार को घेरा है।

सत्ताधारियों और अपराधियों की मिलीभगत का खामियाजा: अखिलेश यादव

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कानपुर की घटना में पुलिस के आठ वीरों की शहादत को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने योगी सरकार को घेरते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश के आपराधिक जगत की इस सबसे शर्मनाक घटना में सत्ताधारियों और अपराधियों की मिलीभगत का खामियाजा कर्तव्यनिष्ठ पुलिस कमिर्यों को भुगतना पड़ा है। अपराधियों को जिंदा पकड़कर वर्तमान सत्ता का भंडाफोड़ होना चाहिए।

एक-एक करोड़ रुपये मुआवजे की मांग……..

समाजवादी पार्टी के ट्विटर एकाउंट पर पोस्ट किया गया कि “रोगी” सरकार के जंगलराज में हत्या प्रदेश बने उत्तर प्रदेश के कानपुर में दबिश के दौरान सत्ता संरक्षित अपराधियों द्वारा हमले में सीओ समेत आठ पुलिस कर्मी शहीद, अत्यंत दुखद है। आत्मा को भगवान शान्ति दें, शोकाकुल परिजनों के प्रति संवेदना एक-एक करोड़ मुआवजे का ऐलान और सत्ता कनेक्सशन का हो पर्दाफाश।

परिजनों के साथ मेरी संवेदनाएं:  प्रियंका गांधी वाड्रा

बदमाशों को पकड़ने गई पुलिस पर बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी, जिससे यूपी पुलिस के सीओ, एसओ समेत आठ जवान शहीद हो गए। यूपी पुलिस के इन शहीदों के परिजनों के साथ मेरी शोक संवेदनाएं। यूपी में कानून व्यवस्था बेहद बिगड़ चुकी है, अपराधी बेखौफ हैं।

अति दुखद, दुर्भाग्यपूर्ण घटना : बसपा सुप्रीमो

बसपा सुप्रीमो मयावती ने कहा कि कानपुर में अपराधियों द्वारा एक भिडंत में डिप्टी एसपी सहित आठ पुलिसकर्मियों की मौत व सात अन्य के आज तड़के घायल होने की घटना अति दुखद, शर्मनाक व दुर्भाग्यपूर्ण। उन्होंने कहा कि स्पष्ट है कि यूपी सरकार को खासकर कानून व्यवस्था के मामले में और भी अधिक चुस्त व दुरुस्त होने की जरूरत है।

इस सनसनीखेज घटना के लिए अपराधियों को सरकार को किसी भी कीमत पर छोड़ना नहीं चाहिए। चाहे इसके लिए विशेष अभियान चलाने की जरूरत क्यों न पड़े। सरकार मृतक पुलिस के परिवार को समुचित अनुग्रह राशि के साथ ही परिवार के किसी एक सदस्य को नौकरी भी दें।

 

 

HindNow Trending : कौन है विकास दुबे जिसने थाने में घुसकर की थी राज्यमंत्री संतोष शुक्ल की हत्या |
कानपुर एनकाउंटर: शहीद पुलिस राहुल कुमार की मात्र 1 साल की है बेटी | गैंगेस्टर विकास दुबे और पुलिस के 
मुठभेड़ में 8 पुलिसकर्मी शहीद | शहीदों को श्रद्धांजलि देने अस्पताल पहुंचे योगी आदित्यनाथ | 
8 पुलिसकर्मियों के शहीद होने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संभाली कमान | विकास दुबे का बड़ा बेटा लन्दन 
में कर रहा MBBS, छोटा कानपुर में 12वीं का छात्र | शातिर अपराधी विकास की माँ ने कहा उसे अब मर जाना चाहिए