पीड़िता ने 3 बार बदले अपने बयान,मेडिकल में रेप की पुष्टि नहीं
/

हाथरस गैंगरेप: पीड़िता ने 3 बार बदले अपने बयान, मेडिकल में रेप की पुष्टि नहीं

हाथरस में हुए गैंगरेप ने पूरे देश को हिला दिया है। वहीं अब मामले में नए सनसनीखेज खुलासे हो रहे हैं। पुलिस विवेचना की रिपोर्ट के मुताबिक गैंगरेप पीड़िता ने तीन बार अपने बयान बदले।

हाथरस- हाथरस में हुए गैंगरेप ने पूरे देश को हिला दिया है। वहीं अब मामले में नए सनसनीखेज खुलासे हो रहे हैं। पुलिस विवेचना की रिपोर्ट के मुताबिक गैंगरेप पीड़िता ने तीन बार अपने बयान बदले। इसका विवेचक की रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है। उपचार के दौरान विवेचक ने पीड़िता से बयान लिए थे। पीड़िता के अलग-अलग तिथियों में लिए गए बयान में अलग-अलग बातें सामने आई हैं। इतना ही नहीं, मेडिकल रिपोर्ट में रेप की पुष्टि नहीं हो पाई है।

आपको बता दें कि उपचार के दौरान युवती के तीन बार बयान हुए। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पहली बार में युवती ने दुष्कर्म से जुड़ा कोई बयान नहीं दिया था। उसके बाद विवेचक ने 19 सितंबर को फिर से युवती के बयान लिए, जिसमें युवती ने बताया ,कि उसके साथ छेड़छाड़ हुई है। यवती द्वारा दिए गए बयान के आधार पर ही पुलिस ने धारा बदलकर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी थी।

22 सितंबर को फिर युवती के बयान दर्ज हुए। जिसमें युवती ने बताया कि उसके साथ दुष्कर्म हुआ है। युवती के नए बयान के आधार पर पुलिस ने आगे की कार्रवाई शुरू कर आरोपियों को गिरफ्तार किया था।

मेडिकल रिपोर्ट के मुताबिक युवती के साथ दुष्कर्म की पुष्टि नहीं

इसी बीच पीड़िता की मेडिकल रिपोर्ट सामने आई है, जिसमें कहा गया है कि मृतका के साथ किसी भी प्रकार का यौन शोषण नहीं किया गया था। गला दबाने की वजह से उनके पीछे की रीढ़ की हड्डी टूटी थी। बता दें यह मेडिकल रिपोर्ट अलीगढ़ के जेएन मेडिकल कॉलेज की है, जहां पीड़िता का इलाज चला था। सोमवार को तबीयत बिगड़ने पर युवती को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में एडमिट कराया गया था, जहां मंगलवार सुबह उसने दम तोड़ दिया। मेडिकल रिपोर्ट के मुताबिक युवती के साथ दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई है।

ये थी पूरी घटना

14 सितंबर की सुबह युवती अपनी मां के साथ पशुओं का चारा लेने खेतों पर गई थी। तभी गांव के कुछ युवक आए और उसे अपनी हवस का शिकार बनाया। युवती के चिल्लाने की आवाज सुनकर खेत में काम कर रही मां आ पहुंची तो चारों युवक भाग निकले। गंभीर हालत में युवती को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

लड़की ने अपने बयान में बताया कि गैंगरेप के बाद उसकी हत्या का प्रयास किया गया। मेडिकल जांच के बाद डॉक्टरों ने बताया कि लड़की की गर्दन को बेदर्दी से मरोड़ा गया था। जिसकी वजह से सर्वाइकल स्पाइन इंजरी हो गई। लड़की की हालत गंभीर होते देख उन्हें सफदरजंग अस्पताल लाया गया, जहां मंगलवार उसकी मौत हो गई।